File Photo
File Photo

    नागपुर. दिघोरी में बन रहे सड़क और नाली निर्माण अब लोगों के लिए परेशानी का सबब बनते जा रहा है. बिना सिर पैर के चलने वाले काम ने लोगों की परेशानियां बढ़ा दी है. पहले जहां नाली बनाने का काम पूरा करना था सड़कें बना रहे हैं, वहीं सड़क का काम अब अधूरा छोड़ कर नाली बनाने का काम कर रहे हैं. इस क्षेत्र के रहने वाले निवासियों का कहना है कि स्टेप टू स्टेप काम करने से रहवासियों और व्यापारियों को समस्या नहीं होती. लेकिन यहां आधा काम किसी क्षेत्र का करते हैं उसके बाद आधा काम छोड़ कर दूसरे क्षेत्र का काम कर रहे हैं. जिसके कारण लंबे समय से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इसके अलावा सड़क के किनारे बनने वाली नाली की ऊंचाई सड़क के किनारे दूकानों और घरों से दो फुट ऊंची है. जिसके कारण पिछले 15 दिनों से स्थानीय रहवासियों और व्यपारियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

    सड़क से ऊंचा है नाली का बेस

    दिघोरी में बन रही नाली का बेस सड़क और आबादी से ऊंचा बनाया जा रहा है. इस वजह से स्थानीय व्यापारियों के सामने समस्या पैदा हो गई है. इसको लेकर लोगों ने मौके पर मौजूद जिम्मेदारों के सामने आपत्ति भी जताई लेकिन किसी तरह की कोई सुनवाई नहीं हुई. नाली का बेस निर्माण पर सवाल खड़े कर रहा है. इससे आने वाले दिनों में घरों और दूकानों में पानी जमा होने की समस्या भी सामने आ सकती है. स्थानीय लोगों ने बताया कि उन्होंने नाली का बेस ऊंचा रखने का विरोध किया था, मगर अधिकारी और ठेकेदारों ने नहीं सुना. व्यापारियों को डर है कि बरसात के दिनों में पानी निकासी में समस्या न हो.

    3 फुट नीचे हो जाएंगी दूकानें

    इस क्षेत्र के दूकानदारों और स्थानीय निवासियों का कहना है कि नाली की ऊंचाई इतनी अधिक है कि आना-जाना भी मुश्किल हो रहा है. सुबह 11 बजे तक दूकानें खोलने के दौरान आने वाले ग्राहकों को गाड़ियां सड़कों पर खड़ी करनी पड़ रही हैं. वहीं घरों से गाड़ी निकालने में और अंदर रखने के लिए भी लोगों को खुद से रैंप बनवाना पड़ेगा. क्योंकि नाली की ऊंचाई बनने के बाद दूकानें 3 फुट तक नीचे हो जाएंगी. जिससे आने वाले समय में लोगों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

    बारिश में हो सकती है समस्या

    सड़क किनारे नाली निर्माण से लोगों के घर नीचे हो गए हैं. घर नीचे हो जाने से बरसात का पानी लोगों के घर में घुसेगा. बारिश आने में ज्यादा समय नहीं रह गया है. ऐसे में स्थानीय लोगों को ये डर सता रहा है कि कहीं बारिश का पानी घर और दूकानों में न आ जाए. नालियों को घर और दूकान से ऊंचा कर बनाया गया है जिससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

    टुकड़ों में हो रहा है काम

    लोगों ने बताया कि इस मार्ग का काम कहीं भी स्टेप टू स्टेप नहीं किया जा रहा है. टूकड़ो-टूकड़ो में किया जा रहा है, जिसके कारण पूरे क्षेत्र में ही अव्यवस्था फैल गई है. वन-वे सड़क को करने से रोजाना ही जाम की स्थिति बन रही है. सड़क खुदाई काम काफी आगे तक कर दिया गया है लेकिन पीछे बने सड़कों और नालियों का काम अब भी बाकी है. जिससे लोगों को रोजाना घर से निकलते ही परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.