fraud

  • मेडिकल के आरोग्य विभाग में लगाने का दिया झांसा

नागपुर. शासकीय वैद्यकीय कॉलेज व अस्पताल (मेडिकल) के सार्वजनीक आरोग्य विभाग में आरोग्य उपसंचालक कार्यालय में नौकरी लगाने का झांसा देकर 42 वर्षीय एक व्यक्ति को 12 लाख रुपये से ठगा. प्लॉट नंबर 121, बैनर्जी लेआउट पोस्ट ऑफिस समीप भगवाननगर निवासी दिपक मनमोहन पेलने (42) की शिकायत पर 5 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया.

आरोपियों में थायराईउ केयर पैथॉलॉजी लैब आर्वी रोड गांधी अस्पताल के पास वर्धा निवासी आशिष उर्फ सोनू मून (32), नेताजी चोक बाबूपेठ चंद्रपुर निवासी दर्शन कोटमवार(38), हरिश उरकुड़े (35), गायकवाड़ मैडम (35) और 32 वर्षीय एक अज्ञात का समावेश है. फरियादी की आरोपियों से मुलाकात फरवरी 2018 में सिटी के दिक्षाभूमि समीप आरोग्य उपसंचाल कार्यालय में हुई.

आरोपियों ने मेडिकल के आरोग्य उपसंचालक कार्यालय में उसे नोकरी लगाकर देने का झांसा दिया और उससे 50,000 रुपये वसूले. इसके बाद सभी आरोपियों ने एक जूट होकर कुछ दिनों में मेडिकल का फर्जी ऑर्डर लेटर बनाया और दिपक से 12,00,000 रुपये वसूले. लाखों रुपये देने के बाद भी नौकरी का कोई नामोनिशान नहीं होने के कारण पीड़ित ने आरोग्य कार्यालय में जाकर पूछताछ की. तब उसे पता चला कि आरोपियों ने उसके साथ धोखाधड़ी की है. मेडिकल का ऑर्डर लेटर फर्जी होने का पता चलने पर पीड़ित ने आरोपियों के खिलाफ बजाजनगर थाने में शिकायत दर्ज की. पुलिस मामले की जांच कर रही है.