अतिक्रमण कार्रवाई, आयुक्त भी पहुंचे, सावजी होटल पर ठोंका जुर्माना

नागपुर. कोरोना के चलते लाकडाऊन के बाद अब अनलॉक कर भले ही व्यापार को छूट प्रदान की गई हो, लेकिन छूट की घोषणा होते ही फूटपाथों पर आए अतिक्रमणकरियों के खिलाफ न केवल कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए बल्की आयुक्त मुंढे स्वयं भी कार्रवाई के दौरान पहुंच जाने से खलबली मच गई. आसीनगर जोन अंतर्गत हुई कार्रवाई के दौरान न केवल फूटपाथ दूकानदारों के खिलाफ कार्रवाई की गई, बल्की नियमों का उल्लंघन कर शुरू रखे गए सावजी भोजनालय पर कार्रवाई कर 2 हजार रु. का जुर्माना भी वसूल किया गया. आसीनगर जोन अंतर्गत दस्ते की ओर से 10 नंबर पुल से कार्रवाई की शुरूआत की गई. जहां से लष्करीबाग होते हुए कमाल चौक, चार खंबा चौक, दुर्गावति चौक और कांजीहाऊस चौक तक कार्रवाई को अंजाम दिया गया. 

आयुक्त ने फोटो भेजकर दिए निर्देश
सूत्रों के अनुसार शहर का दौरा करते समय कुछ इलाकों में फूटपाथों पर अतिक्रमण दिखाई देते ही आयुक्त की ओर से फोटो लेकर अतिक्रमण विभाग को भेजा जा रहा है. जिसके अनुसार कार्रवाई सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए जा रहे है. दिशा निर्देशों के अनुसार कार्रवाई हो रही या नहीं, इसका जायजा लेने के लिए ही बुधवार को आयुक्त भी पहुंच गए. कार्रवाई के दौरान दस्ते की ओर से लष्करीबाग के आवडेबाबू चौक पर स्थित समोसेवाले के खिलाफ कार्रवाई की गई. यहां से होते हुए कमाल चौक पर सावजी भोजनालय पर कार्रवाई करने के बाद वैशालीनगर एनआईटी कार्यालय चौक पर फूटपाथों पर स्थित 2 ठेले भी हटाए गए. दुर्गावति चौक, कांजीहाऊस चौक होते हुए ईंट भट्टी चौक पर दस्ता पहुंचा. यहां पर नाले के किनारे कुछ झोपडियां बनी हुई थी. बारिश के दौरान अनहोनी होने की संभावना के चलते यहां से झोपडे हटाए गए.

1 ट्रक माल भी जब्त
प्रवर्तन विभाग के अन्य दस्ते की ओर से वर्धमाननगर, आम्बेडकर चौक, जयभीम चौक, हिवरीनगर, केडीके कालेज तक दोनों ओर के फूटपाथों पर लगभग 32 अतिक्रमण साफ किए गए. साथ ही दस्ते ने 1 ट्रक माल भी जब्त किया. बताया जाता है कि कोरोना के चलते लाकडाऊन की स्थिति को देखते हुए फूटपाथ दूकानदारों ने भारी मात्रा में अतिक्रमण किया हुआ था. अचानक लाकडाऊन में भी दस्ते के पहुंचते ही कई फूटपाथ दूकानदार को गायब हो गए, लेकिन अस्थायी रूप से जमा कुछ दूकानदारों के खिलाफ कार्रवाई को अंजाम दिया गया.