Father and Son Death by Corona

  • हनुमाननगर की घटना

नागपुर. कोरोना वायरस ने एक बार फिर अपना दुर्दैवी रूप दिखाना शुरू कर दिया है. कई लोगों ने जहां कोरोना संक्रमण के बाद अपनी जान गंवाई तो कई लोग इसके डर से दम तोड़ बैठे. ऐसा ही कुछ हनुमाननगर में ही देखने को मिला जहां एक ही दिन में पिता डॉ. जगन्नाथ झरबडे (91) की मौत के बाद कोरोना पॉजिटिव पुत्र संजय झरबड़े (54) की भी मौत हो गई. मिली जानकारी के अनुसार, डॉ. जगन्नाथ को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. उन्हें तुरंत आयुर्वेदिक लेआउट स्थित सूर्योदय हॉस्पिटल में भर्ती किया. यहां कोरोना जांच के बाद उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई.

फेफड़ों में हुई तकलीफ

लेकिन अगले दिन 19 मार्च को डॉ. जगन्नाथ को सीने फेफड़ों में संक्रमण बढ़ गया और उसी दिन उनका निधन हो गया. इस घटना से 4 दिन पहले उनके बेटे संजय को सांस लेने में तकलीफ होने पर परिसर में स्थित वंजारी हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था. जांच में वह कोरोना पॉजिटिव पाये गये. 2 दिन बाद उनकी तकलीफ बढने पर उन्हें वेंटिलेटर लगा दिया गया.

पिता के मौत के दिन ही उनकी तबीयत अचानक ज्यादा खराब हो गई. अभी डॉ. जगन्नाथ की अंत्येष्टि से लौटे ही थे कि संजय ने भी दम तोड़ दिया. एक ही दिन में पिता-पूत्र की मौत से झरबडे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा. पूरे परिसर में मातम छा गया.