तेज गति में अंतिम चरण का काम, उप्पलवाड़ी RUB का काम पूर्णता की ओर

  • नागरिकों को नए साल तक खुलने की उम्मीद

नागपुर. नागपुर शहर के उत्तरी छोर पर राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 44 पर निर्माणाधीन उप्पलवाड़ी आरयूबी का काम अंतिम चरण में दिखाई दे रहा है. यह काम अंतिम चरण में पहुंचने के साथ ही काम की रफ्तार भी तेज हो गई है. आरयूबी के दाहिने तरफ का टनल भी लगभग बन चुका है. अब इसके आजू-बाजू में मलबा भरकर खाली जगह को फिट किया जा रहा है. एक्सकेवेटर मशीनों की सहायता से यहां पर भराई का काम चल रहा है.

नागरिकों में यह दृश्य देखकर उत्साह है कि अब कुछ ही दिनों में यहां बार-बार लगने वाले जाम से निजात मिल सकेगी. पिछले करीब 20 सालों से यहां पर वाहन चालकों को भारी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा था जिससे इस तरफ आना- जाना टेढ़ी खीर था लेकिन करीब दो साल तक चले काम के बाद अब दोनों तरफ के टनल बनकर तैयार हो चुके हैं.

उल्लेखनीय है कि कामठी शहर और ग्रामीण भागों से रोजाना हजारों नागरिक नागपुर आना-जाना करते हैं. यहां पर अंग्रेजों के समय से पुल था जो कि यातायात के अनुपात में बहुत संकरा हो रहा था. यहां बहुत लंबा जाम लगता था. यह जगह पहले से निचले धरातल पर है इसलिए पानी जमा होता था. इससे नागरिक बहुत परेशान थे. आरयूबी मंजूर होने के बाद इसका बांया टनल बनाने में बहुत लंबा समय लगा क्योंकि उसके लिए रेलवे लाइन के नीचे से जमीन को खोदना था. इस प्रक्रिया ने लोगों को बहुत हलाकान किया. बरसात में तो यहां वाहन चालकों को एक-एक फुट बड़ी सावधानी से आगे बढ़ाना पड़ता था. 

बरसाती पानी भरने की समस्या

यह पुल हाईवे के सामान्य धरातल से करीब 10 फुट गहराई पर है इसलिए बरसात होने पर दूर- दूर का पानी यहां आकर जमा हो जाता है. इससे पहले यहां से पानी निकालने के लिए ड्रैनेज ठीक नहीं होने के कारण ज्यादा वर्षा होने पर वाहनों का निकलना मुश्किल हो जाता है. इससे भी लंबा जाम लगता है. अब यह आने वाले समय में ही पता चलेगा कि नया आरयूबी नागरिकों के लिए कितना सुविधाजनक रहेगा.