Mayor Sandeep Joshi

नागपुर. मेयर संदीप जोशी ने सिटी के नागरिकों से वीकेंड पर शनिवार व रविवार को फिर जनता कर्फ्यू का पालन करने की अपील की है. उन्होंने कहा सिटी में कोरोना मरीजों की संख्या अब कम लग रही हा या रिकवरी रेट भी अधिक दिख रहा है लेकिन संक्रमण काफी तेजी से बढ़ता भी जा रहा है. शहर से कोरोना का खतरा टला नहीं है. इसलिए प्रत्येक नागरिक अपनी जिम्मेदारी को पहचानें. खुद की जान के साथ ही दूसरों की जान खतरे में ना डालें. खुद ही कर्तव्यों का पालन करते हुए शनिवार व रविवारा यानी 26 व 27 सितंबर को जनता कर्फ्यू का पालन करें और अपने-अपने घरों से बाहर नहीं निकलें.

कोरोना चेन को तोड़ना जरूरी
जोशी ने कहा कि शहर में कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए अब उसके चेन को तोड़ने आवश्यक है. गैरजिम्मेदारानी तरीके से रोड पर उतरना, सार्वजनिक जगहों पर बिना मास्क के घूमना, इधर-उधर थूकना इस खतरे को और बढ़ा रहा है. कोविड-19 के दिशानिर्देशों का पालन नहीं करने के कारण ही कई लोगों का जीवन खतरे में आ गया है. कोरोना की चेन खंडित हो इसके लिए नागरिकों को अनुशासनबद्ध होना होगा. इसके लिए सिटी के सभी जनप्रतिनिधियों के सुझाव पर ही सिटी में वीकेंड के दो दिनों में जनता कर्फ्यू का निर्णय लिया गया है. 19-20 सितंबर को जनता ने इसे अच्छा प्रतिसाद दिया था. कुछ गैरजिम्मेदार लोगों की हरकतें ही नजर आई थीं. उन्होंने कहा कि अब 26 व 27 सिंतबर को जनता कर्फ्यू का सभी कड़ाई से पालन करें.

बुजुर्गों को बचाओ
मेयर ने अपील की कि अपने घरों के बुजुर्गों और बच्चों को कोरोना के खतरे से बचाने के लिए कोविड-19 के नियमों का सख्ती से पालन करना ही जरूरी है. हर घर में बुजुर्ग माता-पिता, दादा-दादी, नाना-नानी हैं. छोटे-छोटे बच्चे हैं. बुजुर्गों को पहले ही कोई ना कोई बीमारी होती है और उनका इम्युन सिस्टम जवानों की तरह मजबूत नहीं होता. वे जल्द संक्रमित हो सकते हैं. अपनी गैरजिम्मेदाराना हरकतों से घर के बुजुर्गों व बच्चों के लिए खतरा नहीं बनने की अपील उन्होंने की है. उन्होंने शहर के सभी राजनीतिक पार्टियों के जनप्रतिनिधियों की ओर से नागरिकों से अपील की कि वे दो दिन अपने घरों पर ही रहें.