आक्सीजनयुक्त बेड तैयार करने को दें प्राथमिकता, विभागीय आयुक्त ने दिये निर्देश

    नागपुर. कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. जिन मरीजों को तुरंत वैद्यकीय सुविधा और ऑक्सीजन की आवश्यकता है उन्हें शासकीय व निजी अस्पतालों ऑक्सीजन, बेड, मनुष्य बल आदि सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश विभागीय आयुक्त डॉ. संजीव कुमार ने दिये. 

    विभागीय आयुक्त कार्यालय के सभागृह में कोविड के संबंध में आयोजित बैठक में मनपा आयुक्त राधाकृष्णन बी., जिलाधिकारी रवींद्र ठाकरे, मुख्य कार्यकारी अधिकारी योगेश कुंभेजकर, स्वास्थ्य उप संचालक डॉ. संजय जायसवाल, मेयो, मेडिकल, दत्ता मेघे, एम्स, लता मंगेशकर के अधिष्ठाता, टास्क फोर्स के सभी सदस्य, राजस्व, उद्योग, पुलिस, अन्न व औषधि प्रशासन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे.

    शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालयों में बेड की संख्या बढ़ाने समय ऑक्सीजन बेड तैयार करने को प्राथमिकता दी जाये. इसके लिए जिला नियोजन व खनिज विकास निधि से 127 करोड़ की निधि उपलब्ध कराई गई है. इस निधि से कोविड मरीजों के लिए तत्काल सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिये. कोरोना की  रोकथाम के लिए लॉकडाउन सहित आवश्यक उपाय योजना लागू की गई हैं. मरीजों के संपर्क में आने वालों की जांच की जा रही है. 

    तत्काल करें नियोजन 

    बिना लक्षण वाले संक्रमितों को अस्पताल में भर्ती करने की बजाय घरपहुंच औषधोपचार में सहयोग करने की अपील की. शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय व इंदिरा गांधी वैद्यकीय महाविद्यालय में अतिरिक्त ऑक्सीजनयुक्त बेड उपलब्ध कराए जा रहे हैं. इसके लिए आवश्यक अनुमति तथा ऑक्सीजन प्लांट आदि के बारे में मुख्य कार्यकारी अधिकारी योगेश कुंभेजकर ने विविध विभागों के अधिकारी व टास्क फोर्स अधिकारियों को भेंट देकर जल्द काम पूरा करने की दृष्टि नियोजन करने की सूचना दी.

    कोविड मरीजों के लिए विधायक निवास, वनामती में कोविड केयर सेंटर शुरू किये जा रहे हैं. वनामती में वैद्यकीय अधिकारियों के लिए सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. इन सेंटर में आवश्यक सुविधा उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए.