घरकुल योजनाओं को दें गति, विभागीय आयुक्त ने दिये निर्देश

नागपुर. ग्रामीण भागों में प्रधानमंत्री आवास योजना सहित रमाई, शबरी, पारधी, आदिम, अटल कामगार आवास योजना के सभी प्रलंबित व अपूर्ण कार्यों को महा आवास अभियान के तहत गति देने का निर्देश विभागीय आयुक्त संजीव कुमार ने दिया है. आनलाइन कार्यशाला में उनके साथ आदिवासी विकास विभाग के उपायुक्त दीपक हेडाऊ, उपायुक्त विकास शाखा अंकुश केदार, सहायक विकास शाखा सुनील निकम, प्रादेशिक उपायुक्त समाज कल्याण डॉ. सिद्धार्थ गायकवाड, सहायक आयुक्त कामगार विभाग राजदीप धुर्वे उपस्थित थे.

आनलाइन कार्यशाला में संभाग के सभी जिलाधिकारी, सीईओ, बीडीओ व संबंधित अधिकारी उपस्थित थे. महा आवास अभियान में सभी के लिए घर नीति के तहत ग्रामीण की सभी गृह निर्माण योजनाओं का प्रभावी अमल में लाने का कार्य करना है. इसमें पंचायत राज संस्था, स्वयंसेवी संस्था, सहकारी, निजी संस्था, बैंक, जनप्रतिनिधी, लाभार्थी, ग्रामीणों का सक्रिय सहभाग भी होने की जानकारी उन्होंने दी.

100 दिनों का टारगेट

महा आवास अभियान 20 नवंबर से 28 फरवरी तक 100 दिनों तक चलाया जाएगा. इसमें भूमिहीन लाभार्थियों को जगह उपलब्ध करने, उद्धेश्यानुसार मंजूरी देने, मंजूर घरकुल की निधि का वितरण, भौतिक रूप में घरकुल पूरा करने, प्रलंबित कार्यों को गति देने का समावेश है. इसके लिए ग्रामीण गवंडी प्रशिक्षण, पंचायत समिति निहाय डेमो हाउसेस बनाने, घर में शौचालय, पीने के पानी की व्यवस्था, उज्वाल गैस योजना के तहत गैस देने, सौभाग्य योजना के तहत बिजली कनेक्शन देन,  जीवनोन्नति योजना के तहत रोजगार का साधन दिया जाएगा. कुमार ने बताया कि इस अभियान का शुभारंभ सीएम उद्धव ठाकरे के हाथों हुआ है. राज्य में लगभग 8.82 लाख घरकुल का निर्माण किया जाएगा.