RPI angry over loss of Athawale

नागपुर. केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले (Union Minister Ramdas Athawale) ने रविवार को कहा कि इस बारे में जांच (Investigation) किया जाना बेहद आवश्यक है कि किसान आंदोलन (Farmers Protest) में कहीं ऐसे लोग तो प्रवेश नहीं कर गए जिनका इससे कोई लेना-देना नहीं है।

इससे पहले शनिवार को रेल मंत्री पीयूष गोयल (Railway Minister Piyush Goyal) ने कहा था कि किसान आंदोलन में ”वामपंथी एवं माओवादी तत्वों ने घुसपैठ” कर ली है। महाराष्ट्र के नागपुर (Nagpur) में प्रेसवार्ता के दौरान आठवले ने कहा कि केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे (Ravsaheb Danve) का यह दावा कि किसान आंदोलन के पीछे चीन और पाकिस्तान (China and Pakistan) हैं, ”यह सरकार का रुख नहीं है।”

दानवे के दावे को लेकर किए गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ” पाकिस्तान और चीन के हाथ यहां तक नहीं पहुंच सकते।” वहीं, गोयल की टिप्पणी को लेकर आठवले ने कहा, ” यदि किसानों के प्रदर्शन में ऐसे लोग प्रवेश कर चुके हैं जिनका इससे कोई संबंध नहीं है तो पीयूष गोयल द्वारा की गई टिप्पणियों के संबंध में जांच शुरू होनी चाहिए।”

उन्होंने कहा, ” हम नए कृषि कानूनों को वापस लिए जाने संबंधी किसानों की मांग का समर्थन नहीं करते।” गत 26 नवंबर से हजारों किसान नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं।