Minister Nitin Raut

  • पालकमंत्री राऊत ने यंत्रणा तैयार करने दिया निर्देश

नागपुर. पालकमंत्री नितिन राऊत ने नागपुर सिटी व जिले में कोरोना संक्रमण से पीड़ित होम क्वारंटाइन नागरिकों को अचूक मेडिकल सलाह देने के लिए यंत्रणा तैयार करने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया है. उन्होंने कहा कि सिटी में महीने भर पूर्व के गंभीर हालातों पर प्रशासन ने एकजुट कार्य कर समाधानकारण नियंत्रण लाया है. बावजूद इसके मृत्यु दर कम करने और होम आयसोलेशन में रहने वाले मरीजों को उचित व सही समय पर मेडिकल सलाह मिले इसके लिए मजबूत यंत्रणा स्थापित होना चाहिए. उन्होंने पालक सचिव असीम गुप्ता के साथ कोरोना के संदर्भ में वर्तमान हालातों की समीक्षा की.

विभागीय आयुक्त संजीव कुमार, जिलाधिकारी रवींद्र ठाकरे, मनपा आयुक्त राधाकृष्ण बी, सीईओ योगेश कुंभेजकर, अपर जिलाधिकारी श्रीकांत फडके, मेडिकल के डीन डॉ. सजल मित्रा, मेयो के डीन डॉ.अजय केवलिया, निवासी उपजिलाधिकारी रवींद्र खजांची, जिला शल्य चिकित्सक देवेंद्र पातुरकर, डीएचओ डॉ. सेलोकार सहित अन्य विभाग प्रमुख बैठक में शामिल हुए.

डाक्टरों की कमी
विभागीय आयुक्त ने कोरोना को नियंत्रित करने में कुछ प्रमाण में डाक्टरों की कमी की ओर ध्यान आकर्षित किया. साथ ही बीते महीने भर में बेड की उपलब्धता, आक्सीजन की नियमित आपूर्ति की यंत्रणा, दवाइयों की उपलब्धता के बारे में जानकारी दी. की जा रही उपाययोजना की जानकारी भी दी. वहीं जिलाधिकारी ने मेयो व मेडिकल में स्वास्थ सेवा में किये गए सुधार, उपाययोजना, ग्रामीण भागों में जांच बढ़ाए जाने, मेरा परिवार-मेरी जिम्मेदारी अभियान के संदर्भ में जानकारी दी.

घरबैठे जानकारी देने के लिए एप
मनपा आयुक्त ने बताया कि सिटी में निजी अस्पतालों का सहभाग बढ़ाया गया है. लोगों के घरों तक जाकर जांच का उपक्रम शुरू किया गया है. डैशबोर्ड पर जानकारी दी जा रही है और नागरिकों के लिए 24 घंटे वाररूम शुरू की गई है. पालक सचिव गुप्ता ने नागरिकों को बेड की उपलब्धता व जांच केन्द्र के संदर्भ में जानकारी घर बैठे मिले, इसके लिए एप विकसित करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि नागपुर में बड़ी संख्या में कोरोना पाजिटिव अपने घरों में ही उपचार की तैयारी में हैं इसलिए उन्हें सही समय पर योग्य मेडिकल जानकारी, घर तक जांच की सुविधा, सरकारी अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों को आयुष्मान भारत योजना के तहत सहभागी करने का प्रयास करने का निर्देश उन्होंने दिया.