arrest

  • 3 ID पर करता था बुकिंग, 2 लाइव टिकटें मिली

नागपुर. रेलवे सुरक्षा बल द्वारा मोबाइल वाला अवैध ई-टिकट एजेंट को धरदबोचा. उसके पास से 2 लाइव टिकटों समेत कुल 33729.12 रुपये की टिकटें जब्त की गई जिन्हें 3 अलग-अलग आईडी से बुक किया गया था. हर टिकट पर वह 200 से 300 रुपये को कमिशन लेता था. आरोपी का नाम बुराड़ी मस्जिद ख्वाजा बंदे नवाज नगर कूपलवाड़ी निवासी शकील अहमद रियाजुद्दीन (38) बताया गया है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, नागपुर आरपीएफ की अपराध शाखा (सीआईबी) को गुप्त सूत्रों से जानकारी मिली कि शकील अवैध तरीके से ई-टिकट बुक करके लोगों से भारी कमीशन वसूलता है. जबकि उसके पास आईआरसीटीसी का लाइसेंस भी नहीं है.

मोबाइल में मिली कुल 11 टिकटें
जानकारी मिलते ही मंडल सुरक्षा आयुक्त आशुतोष पांडेय के मार्गदर्शन में सीआईबी के पीआई एसके मिश्रा एएसआई सीबी अहिरवार, मुकेश राठौर के साथ डीएससी कार्यालय के चतुर गाढवे, प्रदीप गुजर, अश्विन पवार और अमित बारापात्रे ने शकील के घर पर छापेमारी की. लेकिन वह घर पर नहीं था. ऐसे में जांच टीम ने उसके भाई जावेद अहमद रियाजुद्दीन के माध्यम से शकील को यशोधरानगर थाने बुलाया. कुछ देर में शकील भी थाने पहुंचा. टिकट दलाली के बारे में पूछने पर उसने बरगलाने की कोशिश की लेकिन बाद में अपना अपराध स्वीकार करने में ही भलाई समझी.

उसने बताया कि वह अपने मोबाइल पर 3 अलग-अलग आईडी से ई-टिकट बुक करता है और यात्री से 200 से 300 रुपये कमीशन लेता है. शकील को हिरासत में लेकर आरपीएफ थाने लगाया गया जहां कम्प्यूटर की मदद से उसके मोबाइल से 33729.12 रुपये में बुक की 11 टिकटें बरामद की गई. इनमें 2660.40 रुपये की 2 टिकटें लाइव थी जिन पर यात्रा होनी बाकी है. डीएससी पांडेय के आदेश पर शकील के खिलाफ रेलवे एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई.