Coronavirus
File Photo

    • 3,717 नये पॉजिटिव 
    • 2,932 सिटी में मिले 
    • 26 की सिटी में गई जान 

    नागपुर. प्रशासन द्वारा तरह-तरह की उपाय योजना के बाद भी कोरोना का प्रादुर्भाव कम होता नजर नहीं आ रहा है. पिछले सप्ताहभर आधे दिन का लॉकडाउन होने से उम्मीद थी कि कोरोना की चेन टूटेगी लेकिन स्थिति विपरीत बनी हुई है. एक ओर जहां संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है, वहीं दूसरी ओर मरने वाले भी बढ़ते जा रहे हैं. इस बीच 40 लोगों ने दम तोड़ दिया.

    कोरोना का प्रभाव जिस तेजी से बढ़ रहा है, लगता नहीं  कि अप्रैल में भी राहत मिल सकेगी. प्रशासन द्वारा लॉकडाउन से लेकर अन्य सभी तरह से उपाय किए जा रहे हैं. धार्मिक, सामाजिक, राजनीतिक आयोजनों पर रोक के बाद भी संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है. मरीजों की संख्या कम होने की बजाय तेजी से बढ़ रही है. यही वजह है कि अब प्रशासन की चिंता बढ़ गई है. टीकाकरण मुहिम भी जोरों पर चलाई जा रही है, जबकि वायरस हर दिन नये-नये इलाकों में एंट्री ले रहा है. 

    2,098 को मिली छुट्टी 

    इस बीच बुधवार को प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार जिले में 3,717 नये संक्रमित पाये गये. इनमें सिटी में 2,932 और ग्रामीण में 782 मिले. इसके साथ ही अब तक जिले में कुल संक्रमितों की संख्या 2,03,488 हो गई है. 40 मरीजों के साथ ही अब मरने वालों का आंकड़ा 4,737 पर पहुंच गया है. इनमें 26 मरीज सिटी और 11 ग्रामीण के रहे. 24 घंटे के भीतर जिले में 17,155 लोगों की जांच की गई.

    प्रशासन द्वारा जांच मुहिम और तेज कर दी गई है. इस बीच 2,098 मरीजों को ठीक होने के बाद छुट्टी दी गई. अब तक कुल 1,65,179 लोग कोरोना से मुक्त हो चुके हैं, जबकि 33,572 एक्टिव केस हैं. यही वजह है कि रिकवरी रेट 81.17 फीसदी पर अटका हुआ है.