Action: First stabbed with poles, then stabbed knife

  • थाने से गायब हुई महिलाएं

नागपुर. जनगणना के नाम पर घरों में घुसपैठ कर रही 3 महिलाओं को स्थानीय युवकों ने पकड़ा. इससे पहले कि उनका फर्जीवाड़ा सामने आता तीनों महिलाएं थाने से गायब हो गई. माइनॉरिटी डेमोक्रेटिक पार्टी ने इस संबंध में गणेशपेठ पुलिस से शिकायत की है.

सोमवार की दोपहर 2 बजे के दौरान कविता, प्रियंका और उनकी एक साथी नई शुक्रवारी गांधीगेट परिसर में लोगों के घरों में जाकर परिवार के सदस्यों की जानकारी ले रही थी. तभी मोहम्मद शाकिब की उनपर नजर पड़ी. उन्हें लगा महिलाएं कोविड-19 से जुड़ी जानकारी देने आई है. शाकिब ने महिलाओं से पूछताछ की तो जनगणना शुरु होने की जानकारी दी.

कोरोना काल में जनगणना की जानकारी देने के कारण शाकिब को उनपर संदेह हुआ. उन्होंने एमडीपी के शहर सचिन शेख मोहसीन रजा को जानकारी दी. जनगणना से जुड़े दस्तावेज महिलाओं ने दिखाए, लेकिन उनके हाथ में जिलाधिकारी का एक पत्र था, जिसमें 14 मार्च को ही जनगणना के सारे काम पर रोक लगाने के आदेश दिए गए थे. तब महिलाएं घबरा गई. तीनों को गणेशपेठ थाने ले जाया गया. नागरिक पुलिस अधिकारी से बात ही कर रहे थे कि तीनों महिलाएं वहां से गायब हो गई.

इन महिलाओं का नाम-पता तो पुलिस को मिल गया है. गणेशपेठ के थानेदार ने जांच करवाने का आश्वासन दिया. कुछ युवकों ने बताया कि महिलाओं ने उन्हें अपने साथ शामिल होने पर मोटी रकम का प्रलोभन भी दिया. सच्चाई क्या है यह तो इन महिलाओं से पूछताछ के बाद ही पता चल पाएगा. यदि वें शासकीय योजना के तहत काम कर रही थी तो थाने से क्यूं भागी यह बड़ा सवाल है. मोहसीन ने इसके पीछे कोई बड़ी साजिश होने का आरोप लगाया है.