जयताला रोड अपराधी को मौत के घाट उतारा, साथी भी हुआ जख्मी

    नागपुर. सोनेगांव थानांतर्गत जयताला रोड पर अज्ञातों ने एक अपराधी और उसके साथी पर हमला बोल दिया. पहले तो दोनों की जमकर धुनाई की गई. साथी बच निकला, लेकिन हमलावरों ने अपराधी को घेर लिया. धारदार हथियार और पत्थर से वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया. बताया जाता है कि 3 दिन पहले ही यह अपराधी जेल से जमानत पर बाहर आया था. मृतक खामला निवासी नीलेश राजेश नायडू (31) बताया गया.

    आरोपियों की संख्या 4 बताई जा रही है, लेकिन किसी के नाम सामने नहीं आए हैं. नीलेश सोमवार की शाम 6 बजे के दौरान अपने साथी प्रतीक सहारे के साथ मिलकर खामला से जयताला की ओर जाने वाले मार्ग पर लंदन स्ट्रीट परिसर के खाली मैदान में बैठकर शराब पी रहा था. तभी अचानक 4 आरोपी वहां दाखिल हुए. नीलेश और प्रतीक को घेर लिया. रॉड और हथियार से दोनों पर वार किया. प्रतीक के पैर पर वार कर उसे लंगड़ा कर दिया. वह किसी तरह जान बचाकर वहां से लंगड़ाता हुआ रोड की तरफ भागा.

    आरोपी नीलेश पर टूट पड़े. जिसके हाथ जो हथियार लगा उससे नीलेश को मारा गया. उसे मौत के घाट उतार कर आरोपी फरार हो गए. प्रतीक ने घटना की जानकारी पुलिस को दी. खबर मिलते ही सोनेगांव पुलिस मौके पर पहुंची. आला अधिकारियों ने भी घटनास्थल का जायजा लिया. पंचनामा कर नीलेश के शव को मेडिकल अस्पताल रवाना किया गया. हमलावरों की जानकारी फिलहाल नहीं मिल पाई है. प्रतीक भी किसी को पहचान से इंकार कर रहा है.

    नीलेश के खिलाफ लूटपाट, हत्या, हत्या का प्रयास और चोरी के कई मामले दर्ज थे. वह वाहन चोरी और सेंधमारी में लगातार सक्रिय था. सीपी के आदेशानुसार आपराधिक गतिविधियों में सक्रिय अपराधियों पर प्रतिबंधक कार्रवाई की जा रही है. पुलिस ने नीलेश को भी गिरफ्तार किया था. उसे धारा 110 के तहत प्रतिबंधक कार्रवाई कर जेल भेजा गया. शुक्रवार को उसे जमानत मिली. बाहर आते ही वह दोबारा सक्रिय हो गया.