Kites Shops
File Photo : PTI

  • 1 से लेकर साढ़े 34 ताव तक की पतंगें
  • 5 से 350 रु. कीमत

नागपुर. अभी मकर संक्रांति के त्योहार को लगभग 1 माह बाकी है. नगर में लॉकडाउन खुलने के बाद पतंग बाजार सजने लगा है. नगर में जूनी शुक्रवारी, इतवारी, गोकुलपेठ आदि क्षेत्र में पतंग व मांजा की दूकानें स्टाइलिश पतंगों के साथ लगने लगी हैं. कम्प्यूटर व मोबाइल गेम के बीच अब पतंगें भी हाईटेक हो रही हैं. युवाओं और बच्चों में इसका क्रेज रहता है. प्लास्टिक, जर्मन ताव, जिलेटिन व कपड़े से तैयार विविध तरह की पतंगें रहती हैं.

कोरोना का असर पड़ा

जूनी शुक्रवारी के कुणाल पतंग स्टोर्स के संचालक राजू गोविंदलाल जैस ने बताया कि पतंगों का बाजार वैसे तो अगस्त से ही शुरू हो जाता है, लेकिन इसका मार्केट दिसंबर, जनवरी से ही जोर पकड़ता है, जो 26 जनवरी तक चलता है. इस वर्ष कोरोना महामारी का असर पतंग व्यवसाय पर भी पड़ा है. कोरोना के कारण मार्केट में अभी पूरी तरह से उठाव नहीं आया है. 

लॉकडाउन में बढ़ गई थी ग्राहकी

उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के दौरान पतंग खरीदने वालों की संख्या में वृद्धि हुई थी, जिनमें अधिकांश छोटे बच्चे थे. चूंकि शालाएं बंद हो गई थीं इसलिए अभिभावकों के सामने भी बच्चों को घर में ही व्यस्त रखने की समस्या थी, जिनके यहां गच्ची है, उनके बच्चे अक्सर पतंग लेकर जाते थे. उनका समय भी पास होता था. लेकिन अनलॉक होने के बाद व्यवसाय में गिरावट आ गई. 

युवाओं की पसंद साढ़े 34 ताव वाली को

राजू जैस ने बताया कि पतंगें 1 से लेकर साढ़े 34 ताव तक बनती हैं. 1 ताव की 25 रु. तक, 2 से 3 ताव वाली 150 रु. तक, साढ़े 27 ताव की 6 से 10 रु. तक, साढ़े 31 ताव की 12 से 15 रु. तक उपलब्ध रहती हैं. 

साढ़े 34 ताव की भी पतंगें रहती हैं जो ज्यादातर युवाओं की पसंद रहती हैं. वे महंगी भी रहती हैं. पतंगें कागज के ताव, प्लास्टिक पन्नी व कपड़े की भी आती हैं.       

बच्चों की पसंद कार्टूनवाली पतंगें

बच्चों की पसंद कम कीमत वाली व कार्टूनवाली पतंगें रहती हैं.  कार्टून कैरेक्टर वाली पतंग को फंटी पतंग भी कहा जाता है. छोटी कार्टूनवाली पतंगों के दाम 5 से 10 रु. तक रहते हैं. बच्चे अपने माता-पिता से इन्हीं पतंगों की डिमांड करते हैं. कार्टूनवाली विशेष पतंग बड़े आकार की कपड़े की रहती हैं. इसकी कीमत 150 से 350 रु. तक होती है.

मांजा 350 से 650 रु. तक उपलब्ध 

बाजार में चाइना के नायलोन मांजे पर प्रतिबंध है. दूकानों में 9 तार वाला मांजा मोनोकाइट पब्जी की कीमत चक्री सहित 300 से  350 रु. तक है. बरेली का 9 तार वाली मांजा 450 रु. तक व 12 तारवाला मांजा  चक्री सहित 600 से 650 रु. तक मूल्य में उपलब्ध है. बरेली मांजे की चक्री में करीब 6 रिल मांजा रहता है.