knife
file

    नागपुर. रास्ते से गाड़ी हटाने को लेकर हुई मामूली बहस के बाद असामाजिक तत्वों ने एक युवक के घर पर हमला बोल दिया. उसपर लाठी से प्रहार किया और भाई की पीठ पर चाकू घोप दिया. इतनी बड़ी घटना होने के बावजूद पांचपावली पुलिस हरकत में नहीं आई. जिससे परिजनों में रोष है. जख्मी युवक शहजिल मुनव्वर (18) का मेयो अस्पताल में उपचार चल रहा है.

    आजाद बुनकर कॉलोनी, अशोकनगर निवासी मोहम्मद आखिल मोहम्मद आरिफ (35) सोमवार की रात भोजन लेने के लिए आजादनगर टेका परिसर में गया था. वापस लौटते समय बंटी बिरयानी सेंटर के सामने कुछ युवक रास्ते पर गाड़ी लगाकर बैठे थे. आखिल ने उनसे गाड़ी हटाने को कहा. इस बात पर उनकी बहस हो गई. आखिर घर लौट गया. रात 9.30 बजे के दौरान 5-6 लोग गाड़ियों में आखिल के घर के सामने पहुंचे. उनके हाथ में चाकू और लाठी थी.

    एक युवक ने आखिल पर लाठी से प्रहार किया. वह बचने के लिए घर के भीतर भाग गया. उसकी बुआ का बेटा शहजिल भी वहां बैठा था. आरोपियों ने शहजिल पर ही हमला कर दिया. वह बचने के लिए भीतर भाग ही रहा था कि एक आरोपी ने पीठ पर चाकू घोप दिया. चाकू वहीं छोड़कर सभी आरोपी भाग निकले.

    शहजिल को उपचार के लिए मेयो अस्पताल ले जाया गया. घटना की जानकारी पांचपावली पुलिस को दी गई. परिजनों का कहना है कि 24 घंटे बीत जाने के बावजूद पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया. शहजिल का अस्पताल में उपचार चल रहा है.