लेट लतीफी : वर्धा रोड पर नव-निर्मित डबल डेकर रोड का मामला

  • उद्घाटन में देरी, गुस्से मे जनता

नागपुर. मेट्रो अधिकारियों की लेट लतीफी और महाविकास आघाड़ी सरकार की हित साधक नीति के चलते वर्धा रोड पर नव-निर्मित डबल डेकर पुलिया का उद्घाटन अधर में लटका हुआ है. जनता के टैक्स के पैसों से पूरी तरह बनकर तैयार पुलिया पर यातायात शुरू नहीं होने से वाहन चालकों और शहर वासियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. शहर में ट्राफिक व्यवस्था को सुगम बनाने के लिए इस पुलिया का निर्माण कराया गया है. मेट्रो स्टेशनों के निर्माण के कारण अजनी चौक से एयरपोर्ट जाने वाली रोड पर गाड़ियों की आवाजाही में दिक्कत से प्रत्येक दिन जाम की स्थिति बन रही है. हालांकि मेट्रो अधिकारी पालक मंत्री और गृह मंत्री के सामने अपनी छवि बनाने के चक्कर में इसे राजनीतिक विषय बताकर दिसंबर से पहले खोलने से इनकार कर रहे हैं.

आंदोलन की चेतावनी

जनता को ट्राफिक परेशानियों से निजात दिलाने के लिए सामाजिक संगठनों ने पहले ही मेट्रो कार्यालय का घेराव करने की चेतावनी दी है. संगठनों ने अधिकारियों से इसे तत्काल प्रभाव से खोलने की मांग की. इसके वाबजूद भी मेट्रो अधिकारी पुलिया पर यातायात शुरू कराने के इच्छूक नहीं दिख रहे हैं. इससे जनता में काफी रोश है. उनका कहना है कि सराकर और प्रशासन लोगों की परेशानियों को दूर करने के लिए है. लेकिन डबल डेकर पुलिया पर यातायात को शुरू करने में देरी कर वे जनता के धैर्य को आजमाने में लगे हैं. बता दें कि केंद्रीय मंत्री नितीन गडकरी और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के प्रयासों से बनकर तैयार वर्धा रोड डबल डेकर पुलिया का उद्घाटन महाविकास आघाड़ी की सरकार मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से कराना चाहती है.

समय तय करे सरकार : चौबे 

विश्व हिंदू परिषद, महानगर नागपुर प्रमुख भैयाजी चौबे ने कहा कि राज्य सरकार डबल डेकर पुलिया को यातायात के लिए खोलने में हो रही देरी का कारण बताए. यदि कोई समस्या है तो उसे भी जनता से साझा करना चाहिए. कम से कम जनता के रोष को कम करने के लिए सरकार द्वारा उद्घाटन के लिए एक निश्चित समय की घोषणा करना चाहिए. उन्होंने कहा कि सरकार को जल्द से जल्द एक मुर्हूत निकालकर डबल डेकर पुलिया को जनता के सुपूर्द कर देना चाहिए ताकि शहर की यातायात को सुगम बनाया जा सके.