Maharajbagh Zoo, nagpur

    नागपुर. कई महीनों से बंद रहा महाराजबाग जू आम लोगों के लिए खुल चुका है. लेकिन अभी भी महाराजबाग को पर्यटकों का इंतजार है. कोरोना काल के लंबे समय के बाद महाराजबाग जू को खोला गया है. लोग परिवार के साथ समय बिताने के लिए महाराजबाग जू पहुंचते हैं. लेकिन अभी देखा जा रहा है कि जू में आने वाले लोगों की संख्या अपेक्षा की तुलना में काफी कम है. अभी औसतन 200 से 300 पर्यटक ही महाराजबाग पहुंच रहे हैं. जबकि सामान्य दिनों में हजारों की संख्या में सैलानी महाराजबाग पहुंचते थे.

    मैनेजमेंट का कहना है कि अभी महाराजबाग को वापस संवारा जा रहा है. लॉकडाउन की वजह से जो भी कार्य है उसे ठीक किया जा रहा है. जानवर काफी बेसब्री से लोगों का इंतजार कर रहे हैं. महाराजबाग जू के अंदर कोविड के नियमों का पालन कड़ाई से किया जा रहा है. बिना मास्क के भी प्रवेश नहीं दिया जा रहा है.

    बारिश के बाद बिगड़ी थी स्थिति

    लंबे समय से जू बंद होने के कारण अब उसे वापस संवारने का काम भी किया जा रहा है. हालांकि समय-समय पर इसका मेंटेनेंस किया जाता रहा है लेकिन बारिश की वजह से अंदर का हाल खराब हो चुका है. जिसे ठीक करने की जरूरत है. वहीं जानवरों के केज के सामने बारिश का पानी कीचड़ भी है, जिसे सुखने में थोड़ा वक्त लगेगा. बारिश की वजह से ऐसी स्थिति बन रही है.  

    पहले जैसी रौनक लौटने का इंतजार

    कई महीनों के बाद खुलने के बाद महाराजबाग में पहले जैसी रौनक का इंतजार महाराजबाग प्रबंधन कर रहा है. हालांकि अभी धीरे-धीरे महाराजबाग जू की रौनक अब लौटने लगी है. लेकिन अभी भी लोग शायद घरों से काफी कम निकल रहे हैं. समय के साथ-साथ अब वापस जू की रौनक लौटने लगी है. सामने चौपाटी में लोगों की भीड़ ने इसका एहसास तो करा दिया है. 

    जान और महाराजा की बन रही जोड़ी 

    महाराज बाग की शान जान कई महीनों से लोगों के इंतजार में हैं. जू खुलने से लोग सबसे पहले जान को देखने पहुंच रहे है. वहीं जंगलों से आए नए मेहमान महाराजा को भी देखने के लिए लोगों में काफी उत्सुकता है. अभी दोनों की नई जोड़ी लोगों के लिए एक नया आनंद होगा. दोनों को देखने अभी भी रोजाना सैकड़ों लोग पहुंच रहे हैं.