Mahavitaran gave 71 thousand connections in Vidarbha in lockdown

  • आनलाइन एग्जाम और स्टडी में भारी दिक्कत

नागपुर. कोरोना लाकडाउन के चलते सभी स्कूल-कालेजों की स्टडी और कोचिंग-ट्यूशन तक आनलाइन चल रही है. परीक्षाएं भी आनलाइन ही हो रही हैं. पूरी सिटी में अलग-अलग इलाकों में रहने वाले विद्यार्थी अपने घरों में बैठकर ही स्टडी कर रहे हैं और परीक्षाएं दे रहे हैं. हो यह रहा है कि अगर किसी इलाके की बिजली परीक्षा के दौरान चली गई तो विद्यार्थी परीक्षा से उस समय वंचित हो रहे हैं.

नागरिकों द्वारा मांग की जा रही है कि अब समय को देखते हुए वह अपना मेन्टेनेन्स का कार्य सिटी में तो सण्डे को ही करे. लोगों ने तेज इंटरनेट कनेक्शन के लिए वाईफाई लगवा लिये हैं और बिजली बंद होते ही राफ्टर आदि बंद हो जाता है. नेट भी काम करना बंद कर देता है. मोबाइल में इंटरनेट की कनेक्टिविटी स्लो होती है. इसलिए अधिकतर विद्यार्थियों के पालकों ने वाईफाई ही लगवाई हुई है. बिजली बंद होने स्टडी और परीक्षा में परेशानी हो रही है.

बताना पड़ता है कारण

एक पीड़ित अभिभावक ने बताया कि किसी भी समय बिजली गुल हो जाने से बच्चों की स्टडी प्रभावित हो रही है. आनलाइन एग्जाम के समय अगर बिजली गुल हुई तो फिर बच्चा आफलाइन हो जाता है. वह परीक्षा से वंचित हो जाता है. उसे स्कूल प्रबंधन को आफलाइन होने का कारण बताना पड़ता है. उसके बाद उसे वही परीक्षा दूसरे दिन या समय पर देनी होती है. इससे वह काफी डिस्टर्ब हो जाता है. महावितरण छुट्टी के दिन सण्डे को ही मेन्टेनेन्स के कार्य करने चाहिए. अन्य दिनों में सुबह 7 से 10-11 बजे तक मेन्टेनेन्स का कार्य किया जाता है और इसी समय बच्चों की कोचिंग, स्कूल या परीक्षा आनलाइन चलती है. 

वर्क फ्राम होम में रुकावट

सिटी के हजारों नौकरीपेशा युवा जो मुंबई, पुणे, बंगलुरू, हैदराबाद आदि शहरों में नौकरी कर रहे थे वे कोरोना के चलते अब अपनी सिटी में घरों से ही वर्क फ्राम होम कर रहे हैं. सभी ने वाईफाई लगवा रखा है. कोई सुबह से शाम वर्क कर रहा है तो किसी का कार्य रातभर चलता है. बिजली गुल होने से इनके कार्य में रुकावट आती है. अचानक आनलाइन सिस्टम से गायब हो जाने के चलते उनके अधिकारी जवाब-तलब करते हैं. महावितरण द्वारा कई बार तो बिजली बंद होने की सूचना तक नहीं दी जाती. सभी कंपनियों की सण्डे को छुट्टी होती है. इस दिन अगर मेन्टेनेन्स के लिए बिजली बंद की गई तो उन्हें भी कोई दिक्कत नहीं होगी.