गांधी बंधुओं के अपहरणकर्ता 12 पर मकोका

गोंदिया. रामनगर थाने के तहत कन्हारटोली निवासी शिक्षण संस्था के संचालक अमर सुजीतसिंह गांधी (43) व उसके छोटे भाई प्रिंस (37) का अपहरण कर मारपीट करने वाले 12 आरोपियों के खिलाफ ने मकोका दाखिल किया है. पुलिस ने 12 में से 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जबकि 1 आरोपी को अग्रिम जमानत मिली है. 2 आरोपी अब भी फरार है.

उल्लेखनीय है कि गांधी की स्कूल में लिपिक पद पर नियुक्ति के लिए अमित अरुण पांडे (35) ने 10 लाख दिए थे. किंतु कुछ दिनों बाद नौकरी छोड़ दी. वह सतत अमर गांधी से 10 लाख रुपये लौटाने की मांग कर रहा था. आसानी से पैसे नहीं मिलते देख आमित पांडे ने पुनाटोली निवासी विजयकुमार उर्फ राजू दुबे के माध्यम से बाहर के अपराधियों को हायर किया. इसके बाद योजना के अनुसार आरोपियों ने गांधी बंधुओं का अपहरण कर पुनाटोली लेकर गए. जहां दोनों भाईयों के साथ जमकर मारपीट की गई. घटना में गंभीर रुप से घायल दोनों भाइयों को सहयोग हॉस्पिटल में उपचारार्थ भर्ती किया गया. घटना के बाद सभी आरोपी फरार हो गए थे. पुलिस ने सभी आरोपियों को पकड़ना शुरू किया.

मुख्य सूत्रधार राजू दुबे को पुलिस मुंबई से पकड़कर ले आई. वर्धा जिला अंतर्गत देवली निवासी कृतिक अंबादास रावेकर (19), नागपुर पारडी निवासी विश्वल प्रल्हाद उके (19), ओमनगर नागपुर निवासी सूरज प्रभुदास तिवारी (19), भवानी मंदिर पारडी निवासी साहिल बंडु गजभिये (20), 4 नाबालिब व 2 आरोपी फरार है. पुलिस ने अपहरण व हत्या का प्रयास सहित भादंवि की धाराएं दाखिल की थी. इसी में मकोका अतिरिक्त दाखिल किया गया है.