Meet Dr. Sharad Mhaiskar, Pro Vice Chancellor of NMIMS at Navbharat Vibes at 6 pm today

नागपुर. आज शाम 6.00 बजे नवभारत Vibes (Series of Webinars) में मिलिए नरसी मोनजी इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज(NMIMS) के प्रो वाइस चांसलर और डीन डॉ. शरद म्हैसकर से। डॉ. म्हैसकर वर्तमान कोरोना के परिदृश्य में शिक्षा के भविष्य पर  हमसे चर्चा करेंगे। वे नवभारत के फेसबुक पेज पर ( https://www.facebook.com/enavabharat) भी हमसे रूबरू होंगे। तो आइए जानते हैं हमारे विशिष्ठ अतिथि और (NMIMS) के बारे में।

डॉ. शरद म्हैसकर ने 1978 में मुंबई विश्वविद्यालय से सिविल इंजीनियरिंग में स्नातक किया। बाद में उन्होंने आईआईटी बॉम्बे से मास्टर और डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की। डॉ. म्हैसकर देश के नेशनल बोर्ड ऑफ एक्रेडिटेशन के इंजीनियरिंग एक्रीडेशन इवैल्यूएशन कमेटी (EAEC) के सदस्य रहे हैं। उन्होंने अपने एम.टेक के लिए 40 छात्रों का मार्गदर्शन किया है। शोध प्रबंध और 3 पीएच.डी. सिविल और सामग्री इंजीनियरिंग के विभिन्न क्षेत्रों में अनुसंधान विद्वानों। वह कोड और मानकों का मसौदा तैयार करने वाले BIS समितियों के सदस्य भी रहे हैं। उन्हें अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय पत्रिकाओं में कई शोध पत्रों भी दिए हैं।

SVKM का NMIMS मुंबई में स्थित एक डीम्ड विश्वविद्यालय है। विश्वविद्यालय के शिरपुर, बैंगलोर, हैदराबाद, इंदौर और नवी मुंबई में भी अपने कॉलेज और स्कूल परिसर हैं। इसमें 17 घटक हैं जो प्रबंधन, इंजीनियरिंग, वाणिज्य, फार्मेसी, वास्तुकला, अर्थशास्त्र, गणितीय विज्ञान, आतिथ्य, विज्ञान, कानून, विमानन, उदार कला, प्रदर्शन कला, वास्तुकला और डिजाइन दोनों में स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं। यह NAAC द्वारा 3.59 CGPA और ग्रेड A + के साथ मान्यता प्राप्त है। यही नहीं NMIMS को MHRD द्वारा श्रेणी1 विश्वविद्यालय का दर्जा भी दिया गया। 

तो आज शाम 6.00 बजे मिलिए नरसी मोनजी इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज(NMIMS) में प्रो वाइस चांसलर और डीन डॉ. शरद म्हैसकर से जी से नवभारत Vibes  में। वे हमारे साथ नवभारत के फेसबुक पेज पर ( https://www.facebook.com/enavabharat) भी हमसे रूबरू होंगे। तो भूलियेगा नहीं और जरुर आइयेगा नवभारतVibes (Series of Webinars) पर।