Meet Samarjit Ghatge in Navbharat e-charcha at 7 pm today

कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए पूरा देश प्रयास कर रहा हैं। कोरोना काल में सरकारों के सामने कई प्रकार की समस्या खड़ी हो गई हैं।जिसका निजात करने और हल करने के लिए कई प्रकार के कदम उठाए जा रहे हैं।

नागपुर. कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए पूरा देश प्रयास कर रहा हैं। कोरोना काल में सरकारों के सामने कई प्रकार की समस्या खड़ी हो गई हैं।जिसका निजात करने और हल करने के लिए कई प्रकार के कदम उठाए जा रहे हैं। इसी को लेकर नवभारत ने ‘e-चर्चा’ कार्यक्रम का आयोजन किया हैं।जिसमे ‘सरकार के सामने आई चुनौती और उसको किस तरह काम करना हैं’ इस पर गहन चर्चा करने समरजीत घाटगे, नवभारत के फेसबुक पेज ( https://www.facebook.com/enavabharat) पर आज शाम 7:00 बजे लाइव रहेंगे।

समरजीत घाटगे राजश्री शाहू के वंशज हैं। इसी के साथ वे एक सीए (चार्टर्ड एकाउंटेंट) हैं। उनके पिता विक्रमसिंह घाटगे कागल तालुका के पूर्व विधायक रह चुके हैं। उन्होंने यहां श्री छत्रपति शाहू सहकारी साखर कारखाना लिमिटेड की स्थापना की। उनके पश्चात समरजीत ने इस कारखाने का कार्यभार संभाला।

2014 के चुनाव के बाद समरजीत भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए थे। जिसके बाद उन्हें महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (म्हाडा) का अध्यक्ष बनाया गया। इसके अलावा समरजीत श्री छत्रपति शाहू मिल्क एंड एग्रो प्रोड्यूसर कंपनी लि., श्री छत्रपति शाहू कृषी खरेदी-विक्री सोसाइटी लि., श्री छत्रपति शाहू तोड़नी वाहतूक संस्था, कागल, सर पिराजिराव गुल उत्पादक संस्था, कागल, राजे विक्रमसिंह घाटगे फाउंडेशन के चेयरमैन हैं। वहीं वे श्री छत्रपति शाहू शिक्षण प्रसारक मंडल, कागल और सिद्धानेरेली, श्री छत्रपति शाहू अपंग कल्याण संस्था, कागल के अध्यक्ष हैं। जबकि सर पिराजिराव घाटगे ट्रस्ट के डायरेक्टर और राजे विक्रमसिंह घाटगे को-ऑप बैंक लि. कागल के विशेष गाइड हैं।

आज समरजीत घाटगे ‘सरकार के समक्ष आई चुनौतियों’ पर चर्चा करने हेतु हमारे साथ शाम 7:00 बजे नवभारत eचर्चा के पटल पर और नवभारत के फेसबुक पेज पर आप सभी के साथ रूबरू होंगे।