NMC

  • 278 टीमें कर रही कार्य

नागपुर. कोरोना महामारी से मृत्युदर को कम करने के लिए राज्य सरकार की योजना मेरा परिवार-मेरी जिम्मेदारी अभियान की शुरुआत मनपा द्वारा शुरू कर दी गई है. 15 सिंतबर से अब तक मनपा की टीम 51 हजार नागरिकों तक पहुंची है. जानकारी दी गई कि वर्तमान में जोनस्तर पर 278 टीमें लोगों के घरों में जाकर उनके स्वास्थ के बारे में सर्वे का काम कर रही हैं.

कुछ ही दिनों में टीम की संख्या 350 हो जाएगी. उक्त अभियान के तहत हर टीम को एक दिन में 50 घरों को भेंट देने का लक्ष्य दिया गया है और सर्वे के दौरान अगर कोई कोई कोविड संशयित मिलता है तो उसे जांच व उपचार के संदर्भ में टीम मार्गदर्शन करेगी. प्रत्येक 5 से 10 टीम के पीछे एक डाक्टर उपचार व संदर्भित सेवा देने के लिए नियुक्त किया गया है. मनपा आयुक्त राधाकृष्णन बी के मार्गदर्शन में टीमें कार्य कर रही हैं.

फिवर क्लिनिक में जांच
बताया गया कि सर्वे के दौरान अगर कोई बुखार, खांसी, सांस भरने या आक्सीजन लेवल कम वाला व्यक्ति मिलता है तो टीम उसे समीप के फिवर क्लिनिक में ले जाएगी व जांच कर आगे का उपचार शुरू किया जाएगा. ट्रेसिंग, ट्रैक व ट्रीट इस त्रिसूत्रीय सिस्टम के माध्यम से कोरोना पर नियंत्रण के लिए सिटी में कार्य शुरू कर दिया गया है. सर्वे में मधुमेह, हृदयविकार, किडनी, कैंसर, मोटापा जैसे बीमारियों से ग्रस्त व्यक्ति की सूची बनाई जाएगी उसे स्वास्थ संबंधी मार्गदर्शन किया जाएगा. यह अभियान 25 अक्टूब तक चलेगा. मनपा आयुक्त ने नागरिकों से सर्वे करने वाली टीमों का सहयोग करने की अपील की है. इस कार्य में स्थानीय पार्षद, जनप्रतिनिधियों का सहयोग लिया जाएगा. सर्वेक्षण के लिए निजी अस्पतालों, सामाजिक संस्थाओं, आशा वर्कर, आंगनवाड़ी सेविकाओं का सहकार्य लिया जाएगा.