Voting was peaceful in 565 gram panchayats of the district

  • 55 फीसदी लोगों ने की वोटिंग
  • 19 उम्मीदवारों के भाग्य पेटियों में बंद

नागपुर. विधान परिषद के लिए नागपुर संभाग पदवीधर चुनाव की वोटिंग में सुबह 8 बजे से मतदाताओं में उत्साह नजर आया. शाम 5 बजे तक मतदाता अपने वोट डालने मतदान केन्द्रों तक पहुंचते रहे. सभी मतदान केन्द्रों में कोरोना से बचने के लिए सारी उपययोजनाओं का कड़ाई से पालन किया गया. प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार शाम 5 बजे तक नागपुर संभाग के 6 जिलों में 55 फीसदी तक वोटिंग हुई थी. नागपुर सीट से 19 उम्मीदवार मैदान में थे जिनकी किस्मत मतपेटियों में बंद हो गई है. अब 3 दिसंबर को वोटों की गिनती होगी और परिणाम भी उसी दिन घोषित कर दिए जाएंगे. वोटिंग खत्म होते ही जीत व हार पर कयास लगने शुरू हो गए हैं.

मुख्य मुकाबला भाजपा के संदीप जोशी, महाविकास आघाड़ी के अभिजीत वंजारी के बीच बताया जा रहा है. इनके अलावा रिपाई, वंबआ के उम्मीदवार सहित 14 निर्दलीय मैदान में थे. संभाग में जितनी वोटिंग हुई उसमें 60.94 फीसदी पुरुष और 42.36 फीसदी महिला मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया. जिले के सभी मतदान केन्द्रों की वेबकास्टिंग द्वारा विभागीय आयुक्त व चुनाव अधिकारी संजीव कुमार व जिलाधिकारी रवीन्द्र ठाकरे निगरानी कर रहे थे.

दिग्गजों ने दिया वोट

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी, पूर्व मुख्यमंत्री व वर्तमान विपक्षी नेता देवेन्द्र फडणवीस, पालक मंत्री नितिन राऊत व पूर्व सांसद अजय संचेती ने भी अपने-अपने मतदान केन्द्रों में जाकर वोट डाले. वहीं चुनाव के उम्मीदवार संदीप जोशी, अभिजीत वंजारी, नितिन रोंघे, प्रशांत डेकाटे, अतुल खोब्रागडे ने भी मतदान किया. सुबह 8 बजे से वोटिंग की धीमी शुरुआत हुई लेकिन दोपहर होते-होते बड़ी संख्या में मतदाता पहुंचने लगे. विभागीय आयुक्त संजीव कुमार और जिलाधिकारी ठाकरे अपनी पत्नियों के साथ मतदान करने मतदान केन्द्र पहुंचे. ग्रामीण भागों में भी शांतिपूर्ण तरीके से मतदान चलता रहा. 

दोपहर तक 32.92 फीसदी वोटिंग

सुबह 8 से 12 बजे तक पूरे संभाग में 322 मतदान केन्द्रों पर 19.70 फीसदी मतदान हो गया था. उसके बाद वोटिंग में तेजी आई. दोपहर 2 बजे तक 32.92 फीसदी मतदान हो चुका था. जिले के सभी मतदान केन्द्रों में कोरोना के चलते थर्मल गन द्वारा मतदाताओं का बुखार मापा जा रहा था. ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन लेवल माप कर ही प्रवेश दिया जा रहा था. सैनिटाइजर, मास्क का वितरण भी किया गया. कर्मचारियों को संपूर्ण किट उपलब्ध करवाई गई थी. दोपहर 4 से 5 बजे तक कोरोना पॉजिटिव मतदाताओं के लिए मतदान का समय रखा गया था. इस दौरान सभी कर्मचारियों ने पीपीई किट पहनी और चुनाव की प्रक्रिया पूरी करवाई. कामठी, कन्हान पिपरी, पारशिवनी, सावनेर में भी मतदाताओं में भारी उत्साह नजर आया. 

दोपहर बाद गति तेज

सुबह 8 से दोपहर 2 बजे तक जहां पूरे संभाग में 32.92 फीसदी वोटिंग हुई थी वहीं उसके बाद के महज 2 घंटो में ही करीब 21 फीसदी मतदान हुआ. दोपहर 2 से 4 के बीच वोटिंग में तेजी आ गई थी. दक्षिण नागपुर में शाहू गार्डन स्कूल के सामने और छोटा ताजबाग के समीप बनाए गए बूथ में मतदाताओं की अच्छी भीड़ नजर आई. दोपहर 4 बजे तक मतदान का प्रतिशत 53.64 पर पहुंच गया. 4 बजे तक नागपुर जिले में 53.91 प्रतिशत, भंडारा में 57.77, चंद्रपुर में 54.16, गोंदिया में 50.80, गड़चिरोली में 40.54, वर्धा में 57.59 फीसदी मतदान हुआ. बताते चलें कि संभाग में 2,06,454 मतदाता हैं जिनमें से 55 फीसदी से अधिक ने वोटिंग की.