Pintu Zalke

  • पहली बार आनलाईन पद्धति से होगा पेश

नागपुर. कोरोना के संकटकाल के चलते भले ही मनपा की आय पर भारी विपरित असर पड़ा हो, इसके बावजूद नियमों के अनुसार अब स्थायी समिति सभापति द्वारा मनपा का आम बजट पेश किया जा रहा है. मनपा इतिहास में पहली बार 20 अक्टूबर को होने जा रही आनलाईन सभा में सभापति पींटू झलके वित्तिय वर्ष 2020-21 का आम बजट पेश करेंगे. इसी तरह बजट के साथ ही मनपा की आम सभा का भी आयोजन किया जा रहा है.

आम सभा भी आनलाइन पद्धति से ही होगी. विशेषत: तत्कालीन आयुक्त मुंढे के कार्यकाल में आनलाईन सभा में इंटरनेट की व्यवस्था ठीक नहीं होने का हवाला देकर सुरेश भट सभागृह में पर्याप्त संख्या में लोगों के बैठने की व्यवस्था होने से वहां सभा लेने की मांग सत्तापक्ष और विपक्ष की ओर से की जाती रही है. अब बजट ही आनलाईन पेश किया जा रहा है. जिससे विशेष रूप से बजट पर होनेवाली चर्चा को लेकर पार्षदों में संभ्रम की स्थिति है.

चर्चा भट सभागृह में कराए

कुछ पार्षदों ने आम सभा के संदर्भ में आपत्ति तो नहीं जताई, किंतु बजट भी आनलाईन पेश करने पर कड़ा विरोध जताया. पार्षदों का मानना था कि अबतक की परंपरा के अनुसार पहले स्थायी समिति सभापति सदन के समक्ष बजट पेश करते है. जिस पर चर्चा के लिए बाद में पार्षदों को कुछ दिन का समय देकर पुन: सभा ली जाती है. इसी तरह भले ही आनलाईन बजट पेश हो, लेकिन चर्चा भट सभागृह में कराई जानी चाहिए. जिससे प्रत्येक पार्षद को इस पर विस्तार से बोलने का मौका मिल सके.