corona death
File Photo

नागपुर. पूरे देशभर में कोरोना से रोजाना अनेक संक्रमितों की मौत हो रही है. चिंताजनक यह है कि इसमें केवल नागपुर जिले से ही रोज 50 के करीब मौतों का समावेश है. नागपुर में दूसरे अन्य शहरों की अपेक्षा रोज ही मौतों का आंकड़ा कम नहीं हो रहा है. गुरुवार को भी 44 संक्रमितों की जिले में मौत हो गई जिसमें 23 सिटी के हैं. 12 ग्रामीण इलाकों के और 9 जिले के बाहर के हैं. 44 मौत को मिलाकर जिले में अब तक कोरोना डेथ का आंकड़ा 2261 हो गया है.

इसमें से 90 फीसदी से अधिक मौत अगस्त व सिंतबर महीने में अब तक हुई है. स्थानीय प्रशासन हो या राज्य की सरकार नागपुर में कोरोना कंट्रोल में सफल नहीं हो पा रही है. रोजाना बढ़ते हुए मौत के आंकड़ों से तो यही लग रहा है. हालांकि की डाक्टरों का कहना है कि ऐसे मरीजों की ही मौत हो रही है जो संक्रमित होने के बाद भी लेटलतीफ अस्पताल में पहुंच रहे हैं. उनकी जनता से अपील है कि कोरोना के लक्षण महसूस होते ही पहले टेस्ट कराना जरूरी है.

बुजुर्गों के लिए खासतौर पर किसी तरह की लापरवाही नहीं बरतने की अपील भी डाक्टर्स कर रहे हैं. नागरिकों में अभी भी कोरोना के संदर्भ में कई तरह की भ्रांतियां हैं जिसके चलते लापरवाही हो रही है. कहीं निजी अस्पतालों के खर्च का भय है तो कहीं कुछ और. यही कारण है कि अभी भी कुछ नागरिक इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं.

कम मिले पाजिटिव
गुरुवार को जिले में में पाजिटिव बीते दिनों कि अपेक्षा काफी कम मिले हैं जो राहत की बात है. गुरुवार को विविध लैब की जांच की रिपोर्ट के अनुसार कुल 1126 नये पाजिटिव मिले हैं जिन्हें मिलाकर अब जिले में पाजिटिव की संख्या 71616 हो गई है. पाजिटिव का आंकड़ा भी 70 हजार के पार हो गया है. जो 1126 नये पाजिटिव मिले हैं उसमें सिटी के 817 और ग्रामीण इलाकों के 300 मरीजों का समावेश है. वहीं 9 जिले के बाहर के हैं. 71616 पाजिटिव में 57204 तो अकेले नागपुर के सिटी के हैं. वहां 14016 संक्रमित जिले के ग्रामीण भागों के हैं और 396 जिले के बाहर के हैं. गुरुवार को एम्स लैब से 85, मेडिकल से 157, मेयो से 178, माफसू 44, नीरी 82, निजी लैब 337 और एंटीजेन 243 का समावेश है.

रिकवरी रेट फिर घसरी
जिले में कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या कुछ दिनों पहले तक 60 और 70 प्रतिशत के बीच चल रही थी. 3-4 दिनों पहले तक रिकवरी रेट ने अच्छा ग्रोथ किया था और यह प्रतिशत 83 प्रतिशत के करीब पहुंच चुकी थी लेकिन बीते 3 दिनों से फिर रिकवरी रेट आयी स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा घसरने लगा है. बुधवार को रिकवरी रेट 76.71 फीसदी थी जो गुरुवार को और कम होकर 74.59 फीसदी पर आ गया. हालांकि गुरुवार को भी 1506 लोग स्वस्थ होकर अपने घरों को लौटे हैं. जिले में कोरोना से ठीक होने वालों की कुल संख्या 53418 हो गई है. इसमें 42955 शहर के और 10463 ग्रामीण भागों के हैं.

एक्टिव केस भी बढ़े
3-4 दिन पूर्व एक्टिव केस यानी संक्रमित मरीजों की संख्या भी कम हो गई थी. आंकड़ा 10 हजार के नीचे भी पहुंच गया था लेकिन दो दिनों में इसमें काफी बढ़ोतरी देखी जा रही है. गुरुवार को तो जिले में एक्टिव केस की संख्या 15937 पर पहुंच गई. इसमें से 13492 सिटी के और 2445 ग्रामीण भागो के हैं. इन संक्रमितों का विविध अस्पतालों में उपचार चल रहा है.

71,616 कुल संक्रमित

53,418 अब तक हुए स्वस्थ

2261 की अब तक मौत

1126 गुरुवार को पाजिटिव