corona-virus
File Photo

  • अक्टूबर में बढेगे सर्दी, जुकाम के मरीज

नागपुर. डाक्टरों की माने तो कोरोना संक्रमण का फ्लो अप एंड डाउन होता रहता है. लेकिन एक स्थिति के बाद संक्रमण कम होने की संभावना रहती हैं. हालांकि अगले करीब 15 दिनों तक सिटी में मरीजों की संख्या यथावत बनी रहेगी, लेकिन उसके बाद कुछ कम होने की उम्मीद है. वहीं ग्रामीण भागों में मरीजों की संख्या बढ़ने की संभावना व्यक्त की जा रही है. अक्टूबर के महीने में सर्दी, जुकाम आम हो जाता है. यही वजह है कि लोगों को समय पर जांच सहित सावधानी बरतने की अधिक आवश्यकता है.

अक्टूबर में बारिश कम होने के साथ ही ठंड शुरू हो जाएगी. मौसम में बदलाव के साथ ही तरह-तरह की बीमारियां भी बढ़ती है. हालांकि बारिश की तुलना में संक्रमण कम होता है, लेकिन सर्दी, जुकाम जैसी शिकायतें आम होती है. डाक्टरों की माने तो इस बार पहले जैसी स्थिति नहीं है. शुरूआती दौर में ही जांच की जाये और विशेषज डाक्टरों से परामर्श लेकर औषधोपचार किया जाये तो बीमारी पर काबू किया जा सकता है.

टेस्ट बढ़ने के साथ ही मरीज भी बढ़े
इस बीच मंगलवार को टेस्टिंग बढ़ने के साथ ही मरीजों की संख्या भी बढ़ गई. मंगलवार को जिले में चौबिस घंटे के भीतर कुल 7117 लोगों की जांच की गई. इनमें 1215 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई. इसके साथ ही अब जिले में कुल मरीजों की संख्या 77030 हो गई है. वहीं 34 मरीजों की मौत हो गई. इनमें 8 मरीज जिले से बाहर के है. इस तरह अब तक कुल 2472 मरीजों की जान चली गई. फिलहाल जिले में 13443 एक्टिव केस है. वहीं मंगलवार को कुल 1418 मरीजों को छुट्टी दी गई. वहीं अब तक कुल 61115 मरीज कोरोना से ठीक होकर अपने घर पहुंच चुके हैं. सिटी में अब तक कुल 61244 मरीज पाये गये. वहीं ग्रामीण में 15361 लोगों को कोरोना ने अपनी चपेट में लिया. यदि मृत्यु की बात करें तो सिटी में 1799 और ग्रामीण के 430 लोगों की जान गई है.

मरने वालों की कम होती संख्या से अनुमान लगाया जा सकता है कि अगले कुछ दिनों में मरीजों की संख्या कम होगी. 15 अक्टूबर तक संक्रमण का फ्लो इसी तरह बना रह सकता है. इसके बाद मरीजों की संख्या कम हो सकती हैं. जबकि ग्रामीण भागों में संक्रमण की रफ्तार बढ़ने की संभावना है. ग्रामीण भागों में अधिकाधिक टेस्टिंग की जरुरत है. – डा सजल मित्रा डीन मेडिकल कालेज.

अक्टूबर के महीने में ठंड होने से सर्दी, जुकाम के मरीज बढ़ सकते हैं. इस हालत में लोगों को सावधानी बरतते हुए टेस्ट कराने पर जोर देना होगा. सिटी में स्थिति सुधरती नजर आ रही है, लेकिन ग्रामीण भाग में संक्रमण बढ़ने की संभावना बन रही हैं. लोगों को सावधानी बरतना होगा. – डा अर्चना कोठारी, अध्यक्ष आईएमए.

अब देखने में आ रहा है कि ग्रामीण भागों से अधिक मरीज इलाज के लिए आ रहे हैं. इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि अगले कुछ दिनों में ग्रामीण भागों में मरीजों की संख्या बढ़ सकती हैं. कोरोना का संक्रमण तेजी से फैलता है. यही वजह है कि जांच सहित उपचार को लेकर सतर्कता और तत्परता आवश्यक है. – डा आनंद संचेती हदय शल्यचिकित्सक.

सिटी में अब तक की स्थिति

77030 कुल संक्रमित

2427 की मृत्यु

1215 मंगलवार को पाजिटिव

61115 हुये ठीक