India Corona
Representational Pic

नागपुर. कोराना वाइरस ने एक बार फिर रफ्तार पकड़ ली है. एक ओर जहां मरने वालों की संख्या बढ़ रही है. वहीं दूसरी ओर संक्रमण भी तेजी से फैल रहा है. देखते ही देखते आंकडा 1500 को पार कर गया. कोरोना की चेन नहीं टूटने का ही नतीजा है कि हर दिन अलग-अलग क्षेत्रों से मरीज पाजिटिव आ रहे हैं. इस बीच मंगलवार को कुल 32 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई.

कामठी के मिलिस्ट्री हास्पिटल में संक्रमित मरीजों की संख्या हर दिन बढ़ती जा रही है. लग रहा है कि कोरोना अधिकाधिक लोगों को अपने कब्जे में ले रहा है. वहीं मोमिनपुरा से भी मरीजों के संक्रमित होने का सिलसिला जारी है. मंगलवार की रिपोर्ट में मिनीमाता नगर, सेंट्रल जेल, टिमकी, झिंगाबाई टाकली, रामटेक और रामदासपेठ से भी मरीज की पुष्टि हुई. पिछले दिनों रामदासपेठ में मरीज मिलने से कुछ इलाके को सील किया गया था. अब एक बार फिर से परिसर को सील करने की प्रक्रिया की जा रही है. 

रिकवरी रेट बढ़ रहा
इस बीच मंगलवार को राहतभरी खबर भी आई. एक साथ 58 लोगों को छुट्टी दी गई. इनमें मेडिकल से 41, मेयो से 7 और एम्स से 10 मरीजों का समावेश रहा. वैसे देखा जाये तो हर दिन मरीजों को छुट्टी मिल रही है. इसका मतलब साफ है कि रिकवरी रेट भी बढ़ रहा है. डाक्टरों का मानना है कि बिना लक्षण वाले मरीज मिलने की वजह से ही रिकवरी रेट अच्छा हुआ है. लेकिन कोरोना की चेन नहीं टूटने की वजह से प्रशासन का टेंशन बढ़ने लगा है. 

सिटी में आज की स्थिति

1505 कुल संक्रमित

32 मंगलवार को पाजिटिव

25 की अब तक मौत

1255 को मिली छुट्टी 

1330 हुये क्वारंटाइन 

263 होम क्वारंटाइन