Nagpur ST Bus Stand

  • 50 प्रतिशत से ज्यादा ऑपरेशन बंद

नागपुर. एसटी बस स्टैंड से यात्रियों की संख्या लगातार घटते जा रही है. अब आलम ये हो गया है कि बसों को आधे रास्ते से लौटना तक पड़ रहा है. विदर्भ के अंदर चलने वाली कई बसों को यात्री नहीं मिलने के कारण वापस बुलाया गया. एसटी मैनेजर अनिल आमनेरकर ने बताया कि हम पहले ही 50 प्रतिशत आपरेशन बंद कर चुके हैं. इसके बाद भी लाकडाउन के कारण यात्रियों की संख्या न के बराबर हो गई है. शनिवार को कई रूटों पर 20 से 25 यात्रियों के साथ ही बसें चलीं तो, वहीं दूसरी ओर कुछ रूटों पर यात्री नहीं मिलने के कारण बस को वापस बुला लिया गया. वहीं बसों के फेरियों में भी काफी कमी आई है. जहां 10 फेरियां लगते थे वहां सिर्फ 2 से 3 फेरियां ही बसें चली हैं. लाकडाउन के कारण आगे और भी इसी तरह की स्थिति हो सकती है.

1,172 में से सिर्फ 572 फेरियां ही चलीं बसें

गणेशपेठ बस स्टैंड से शनिवार को लाकडाउन का जबरदस्त असर दिखा. गणेशपेठ बस स्टैंड से रोजाना 1,172 फेरियां बसों की चलती है. लेकिन शनिवार को लॉकडाउन की वजह से 1,172 में से सिर्फ 572  फेरियां ही बसें चलीं. लॉकडाउन की वजह से और यात्रियों की कम संख्या की वजह से शनिवार को 600 फेरियां बसें नहीं चलाई गई. गणेशपेठ बस स्टैंड के मैनेजर अनिल आमनेरकर के अनुसार रविवार को भी इसी तरह के हालात हो सकते हैं.

Nagpur ST Bus Stand

यात्रियों की सफर से तौबा

कोरोना के चलते सिटी के मेन बस स्टैंड पर यात्रियों की संख्या अब आधे से भी कम हो गई है. रेलवे स्टेशन और प्राइवेट बसों के पास भी यात्री कम हो गए हैं. लोगों ने बाहर जाने से दूरी बना ली है. पहले ट्रेनें और रोडवेज बस भरकर चलती थीं, इनमें अब बहुत कम यात्री नजर आ रहे. जो यात्री ट्रेन व बसों में सफर कर रहे हैं वह भी विशेष सतर्कता बरत रहे. यात्रियों की संख्या घटने से एसटी महामंडल के साथ ही रेलवे और परिवहन निगम को भी काफी राजस्व नुकसान हो रहा है. 

टिकट काउंटर पर खत्म हो गई भीड़

पहले जहां टिकट काउंटर पर टिकट लेने के लिए लंबी-लंबी लाइनें लगती थी. वहीं अब कोरोना संक्रमण के कारण यह हालात बदल गए हैं. अब टिकट काटने वालों को यात्रियों का इंतजार करना पड़ रहा है. बस स्टैंड पर काम करने वाले स्टाफ का कहना है कि आने वाले एक दिनों में यात्रियों की संख्या में और तेजी से गिरावट आने की संभावना है. शनिवार को शहर छोड़कर जाने वाले यात्रियों की संख्या बाकी दिनों की अपेक्षा काफी कम रही. 

Nagpur ST Bus Stand

खाली बसें चलाना मजबूरी

कोरोना वायरस का खौफ लोगों में बढ़ता जा रहा है. इस कारण लोग अब यात्रा करने से भी परहेज करने लगे हैं. एसटी मैनेजमेंट के पास अब इतने भी यात्री नहीं बचें कि वो भरी सीट के साथ बस चला सकें. एसटी से चलने वाली लगभग सभी बसों में आधी यात्रियों के साथ खाली सीटें बसें ही चल रही है. बस के कंडक्टर और ड्राइवरों ने बताया कि यह हालात पिछले तीन दिनों से हुई है. किसी भी रूट के लिए यात्री पूरी संख्या में नहीं मिल रहे हैं. सभी बसों में आधी-अधूरी सीटों के साथ ही बसों को चलाया जा रहा है.