liquor
Representational Pic

    नागपुर. रामटेकेनगर टोली परिसर में दोबारा सक्रिय हुए शराब विक्रेताओं पर लगाम कसने के लिए एक बार फिर पुलिस ने छापेमारी की. तड़के 5 बजे के दौरान क्राइम ब्रांच सहित विविध दस्ते टोली में दाखिल हुए. शराब की भट्टी पुलिस ने ध्वस्त कर दी और 5 लोगों को हिरासत में लिया. पकड़े गए आरोपियों में बेबी हीरालाल मानकर (50), परसा सूरज लोंडे (23), विनोद देवीदास लोंडे (34), चंद्रकला प्रताप हातागड़े (47) और जागेश्वर बाजीराव लोंडे का समावेश है.

    शहर में महुआ शराब बनाने का काम भिवसनखोरी और रामटेकेनगर टोली में चलता है. समय-समय पर पुलिस यहां छापेमारी करती रहती है. लेकिन यहां रहने वाले लोगों की उपजीविका ही महुआ शराब से चलती है. इसीलिए दोबारा लोग घरों में भट्टी लगा लेते हैं. पिछले दिनों अजनी पुलिस ने यहां छापेमारी की थी.

    स्थानीय नागरिकों ने पुलिस के वाहन पर पथराव कर दिया था जिससे स्थिति तनावपूर्ण हो गई. दूसरे दिन पुलिस ने घरों में घुस-घुसकर सारी भट्टियां तहस-नहस कर दी. दोबारा शराब विक्रेताओं का धंधा शुरू होने के कारण मंगलवार की सुबह क्राइम ब्रांच की टीमों ने घेराबंदी करके परिसर में छापा मारा.

    अजनी पुलिस को इसकी जानकारी तक नहीं थी. पुलिस के परिसर में दाखिल होते ही खलबली मच गई. कई शराब विक्रेता घरों से भाग निकले. उपरोक्त 5 आरोपी पुलिस के हाथ लगे. घरों में लगाई गई भट्टी और जमा किया गया महुआ सड़वा मौके पर ही नष्ट कर दिया गया.