शीत सत्र की तैयारी हुई शुरू

  • मरम्मत व मेन्टेनेन्स का हो रहा काम

नागपुर. शीतकालीन अधिवेशन नागपुर में 7 दिसंबर से आयोजित होने वाला है. इसकी घोषणा की जा चुकी है. इसके साथ ही नागपुर में विधानभवन, देवगिरी, नागभवन, रविभवन में भी तैयारियां शुरू हो गई हैं. नागभवन में स्थित 6 काटेज में मरम्मत व मेन्टेनेन्स का कार्य शुरू किया गया है. यहां कमरों की टाइल्स बदली जा रही है. किचन की दुरुस्ती का कार्य भी किया जा रहा है.

वहीं देवगिरी में भी दुरुस्ती व खपरैल बदलने का कार्य तेजी से चल रहा है. रविभवन में जिन काटेज में खपरैल टूट-फूट गए हैं या लीकेज हैं वहां तिरपाल लगाने का काम जोरों पर है. साथ ही साफ-सफाई भी की जा रही है. बताते चलें कि कोरोना के चलते इस वर्ष नागपुर में शीतसत्र लेने को लेकर सत्ताधारियों में ही दो फाड़ है.

कांग्रेस विधायक विकास ठाकरे ने शीतसत्र में होने वाले करोड़ों रुपये को कोरोना से निपटने के लिए खर्च करने की सलाह देते हुए सत्र को रद्द करने की मांग की थी लेकिन वहीं राकां के शहर अध्यक्ष अहिरकर ने शीतसत्र नागपुर में ही आयोजित करने की मांग की थी. बाद में विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले ने नागपुर करार के अनुसार विदर्भ में शीतसत्र आयोजित करने पर मुहर लगाई.

7 दिसंबर से नागपुर से सरकार संचालित होगी. कितने दिनों का सत्र होगा यह फिलहाल तय नहीं है लेकिन नागपुर में महकमा अब तैयारियों में लग गया है.