CRIME

    नागपुर. लॉकडाउन में शराब की दूकानें बंद होने का फायदा उठाकर अवैध रूप से देशी शराब बनाने और बेचने वालों के खिलाफ जारी अभियान तहत रहाटेनगर टोली में अजनी पुलिस ने छापेमार की. पुलिस ने 3 महिला आरोपियों को गिरफ्तार किया. यहां से पुलिस ने करुणा जेाशी मानकर, वंचाबाई माणिक हातागडे और जयराज लोंढे को गिरफ्तार किया. उनके यहां से पुलिस को ड्रमों में तैयार हो रही और रखी हुई करीब 1.26 लाख रुपये की महुआ शराब के साथ कुल 4.50 लाख का माल जब्त किया गया. इनमें से शराब को वहीं बहा दिया गया.

    प्राप्त जानकारी के अनुसार, पीआई विनोद चौधरी को गुप्त सूचना मिली थी कि अजनी थानातंर्गत रहाटेनगर में कुछ महिलायें लॉकडाउन का फायदा उठाकर देसी शराब बेच रही है. उनके घर में अब भी हजारों लीटर शराब रखी हुई है. पीआई चौधरी ने तुरंत एक टीम बनाई और रहाटेनगर में छापेमार कार्रवाई की.

    पुलिस को यहां से तीनों महिला आरोपियों के घर से 34 ड्रमों में 1.26 लाख रुपये कीमत का 1360 लीटर देसी शराब का सड़वा और 580 लीटर देसी शराब मिली. वहीं, आरेपियों के झोपड़ों में करीब 3,000 लीटर महुआ भी मिला. इस प्रकार कुल 4.50 लाख रुपये का माल मिला. यह कार्रवाई डीसीपी अक्षय शिंदे, पीआई विनोद चौधरी, एपीआई संतोष जाधव, शीतलकुमार गायकवाड, एनडी फड, सखाराम कांबले, खेमराज पाटिल, नीलेश इगले, अतुल दवंडे, हंसराज पाउलझगडे आदि द्वारा पूरी की गई.