Minor Caught by RPF

    नागपुर. रेलवे सुरक्षा बल द्वारा छत्तीसगढ़ से भागकर आए नाबालिग जोड़े को गलत हाथों में जाने से बचा लिया गया. लड़का और लड़की दोनों वार्ड नंबर 16, भिलाई निवासी हैं. लड़के की उम्र 17 और लड़की की उम्र 15 वर्ष है. मिली जानकारी के अनुसार, दोनों एक ही मोहल्ले के होने के कारण उनकी आपस में जान-पहचान थी. उनके बीच दोस्ती हुई जो जल्द ही प्यार में बदल गई. ऐसे में घर वालों के विरोध के डर से दोनों ने शहर छोड़ने का मन बनाया और बिना टिकट की ट्रेन में बैठ गए. भंडारा में टिकट चेकिंग के दौरान बिना टिकट होने की पेनल्टी भी लगाई.

    जयपुर जाने की थी तैयारी

    नागपुर पहुंचने पर दोनों जयपुर जाने की तैयारी में थे लेकिन ट्रेन न होने से वे प्लेटफार्म-1 के मुंबई छोर पर ओपन वेटिंग हॉल में बैठे हुए थे. शाम करीब 4.30 बजे गश्त कर रहे आरपीएफ के प्रधान आरक्षक संजय दलने, नरेश मेश्राम और संदीप सोनवाने की नजर दोनों पर पडी. संदिग्ध नजर आने पर उनसे पूछताछ की. पहले तो दोनों ने बरगलाने की कोशिश की लेकिन कहीं भी जाने का टिकट न होने से उन्हें थाने लाया गया. यहां उप निरीक्षक मनोज धायगुडे तथा रेलवे चाइल्ड लाइन की रोशनी मेश्राम द्वारा उन्हें विश्वास में लेकर पूछताछ करने पर दोनों ने घर भागने की बात कबूल की. दोनों को उचित कागजी कार्यवाही के बाद  चाइल्ड  लाइन के सुपुर्द कर उनके परिजनों को सूचित किया गया.