Rohit Pawar: Center, state governments will have to work together in the Corona war, more work will have to be done in the economic field

नागपुर. आज नवभारत Young Turk में श्री रोहित पवार हमसे मुखातिब हुए और उन्होंने कोरोना परिदृश्य में बदलते राजनीतिक भविष्य और महाराष्ट्र महा विकास अघाड़ी की कोरोना से लड़ाई हेतु योजनओं के बाबत हमसे चर्चा की। आईये जानते हैं उनके साथ हुए संवाद के महत्वपूर्ण अंशों के बारे में।

श्री रोहित पवार का कहना था कि आज सम्पूर्ण विश्व और भारत कोरोना से अपनी लड़ाई लड़ रहा है। कल तक शायद किसी ने भी नहीं सोचा था कि हमें आगे जाकर इस प्रकार किसी महामारी से लड़ना होगा और खुद को आगे की लड़ाई के लिए तैयार करना होगा। उनका यह भी कहना था कि “यघपि कोरोना टीकाकरण पर काम हो रहा है और पूरी दुनिया के साथ भारत भी इसके वैक्सीन को तैयार करने के लिए कमर तोड़ मेहनत कर रहा है। यह कब तक संभव होगा अभी बता नहीं सकते लेकिन हमें इसके साथ अपने लड़ाई के लिए खुद को मानसिक रूप से तैयार करना पड़ेगा।”

रोहित जी ने इस बात पर भी जोर दिया आज समस्त राज्य सरकारें, केंद्र सरकार के साथ पूर्ण सामंजस्य के साथ कार्य कर रही हैं। उनका यह भी मानना था कि अब कोरोना के इस बदलते परिदृश्य में सभी को देश के आर्थिक विकास में एक साथ कार्य करना होगा । उन्होंने बताया की महाराष्ट्र में कोरोना कि लड़ाई में महा विकास अघाड़ी कोई भी जरुरी कदम उठाने से पीछे नहीं हट रही और इसकी रोकथाम के लिए और अपने कोरोना वारियर्स जैसे पुलिस,प्रशासन और स्वास्थ कार्यकर्ताओं की सुरक्षा के लिए पूरी तरह लाम बंद है। इसके साथ ही उन्होंने आर्थिक रूप से कैसे अपने राज्य और देश को वापिस पटरी पर लाना है इस पर भी हमसे चर्चा की।

प्रश्नों उत्तर के दौर में श्री रोहित पवार ने नवभारत के कई महत्वपूर्ण प्रश्नों के उत्तर दिए। उन्होंने बताया कि आज राज्य सरकार केंद्र के साथ कदम से कदम मिलते हुए कार्य कर रही है। उनका यह भी कहना था कि प्रवासी मजदूरों के लिए जो केंद्र सरकार योजनायें चला रही हैं वह अच्छी हैं पर उसमें राज्य सरकारों का साथ लेकर इन्हें और परिपक्व किया जा सकता है। उन्होंने यह भी बताया कि महाराष्ट्र सरकार कोरोना के रोकथाम पर किस प्रकार अच्छा कार्य कर रही है तथा कोरोना की मृत्यु दर को भी नियंत्रण में रखने का प्रयास कर रही है।

उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में यह भी बताया कि आज महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा कोरोना जांच कि जा रही है और इसके अलावा कोशिश कि जा रही है कि प्राइवेट डॉक्टर्स को भी इस कार्य में ज्यादा से ज्यादा जोड़ा जाए और उनकी समस्याओं का भी निराकरण किया जाये। उन्होंने यह भी बताया कि किस प्रकार महाराष्ट्र सरकार नए अस्पतालों को खड़ा करने के लिए अपने प्रयास तेज कर दिए हैं। हालाँकि वे अपने राजनीतिक विरोधियों पर थोडा  खिन्न दिखे और उन्हें इस समय ओछी राजनीति से ऊपर उठकर राज्य सरकार के साथ कार्य करने का आह्वान किया। 

एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने यह भी बताया कि किस प्रकार उनके मित्र आदित्य ठाकरे के साथ और अन्य नए आमदारों के साथ जनता कि भलाई और उनकी परेशानियों को दूर करने के लिए वे सटीक संवाद करते रहते हैं। उन्होंने यह भी बताया कि वे अपने पितामह श्री शरद पवार से विभिन्न राजनीतिक पहलुओं पर विचार विमर्श करते रहते हैं और उनके दूरदर्शिता से सीखने का प्रयास करते हैं । अंत में कार्यक्रम की समाप्ति पर उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि हमें कोरोना से मिलकर लड़ना होगा और साथ में अपने देश और राज्य को इस समस्या से बहार लाना होगा।इसके साथ ही नवभारत के साथ हुए इस चर्चा के लिए उन्होंने नवभारत परिवार को धन्यवाद दिया।