RSS Vijayadashmi
File Photo

  • बदला-बदला रहेगा आयोजन

नागपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा आयोजित विश्वप्रसिद्ध विजयादशमी उत्सव पर इस बार कोरोना का साया नजर आने वाला है. हर बार की तरह आयोजन के बजाय इस बार सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के पालन के साथ विजयादशमी और शस्त्रपूजन की तैयारी की जा रही है. कोरेाना के कारण इस बार उत्सव में काफी बदलाव देखने को मिलेंगे. महाराष्ट्र में 25 अक्टूबर को दशहरा मनाया जायेगा. ऐसे में इस तारीख तक सरकार तथा स्थानीय प्रशासन द्वारा और कौनसी नई सूचना जारी होगी, इस पर सभी का ध्यान है.

लाकडाउन में रद्द किये कई कार्यक्रम
ज्ञात हो कि कोरोना संक्रमण के कारण केन्द्र सरकार ने 25 मार्च को देशव्यापी लाकडाउन लगा दिया था. इसके बाद संघ ने भी अप्रैल से जून तक अपने सारे कार्यक्रम रद्द कर दिये. इन कार्यक्रमों की संख्या 90 से अधिक है जिनमें संघशिक्षा वर्ग समेत अन्य सार्वजनिक व सामूहिक कार्यक्रम शामिल हैं. इनमें बंगलुरू में आयोजित अखिल भारतीय अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा को भी रद्द कर दिया गया था.

ऐसे में स्वयंसेवकों द्वारा इस बात पर चर्चा चल रही है कि इस बार संघ द्वारा विजयादशमी का उत्सव किस प्रकार मनाया जायेगा. हर वर्ष संघ द्वारा स्वयंसेवक पथसंचलन, योग समेत अन्य कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं. मुख्य रूप से प्रमुख अतिथि का भाषण तथा सरसंघचालक द्वारा मार्गदर्शन किया जाता रहा है.

100 से कम लोग, ऑनलाइन
ज्ञात हो कि संघ के विजयादशमी उत्सव पर पूरे देश की नजर रहती है. लेकिन इस बार कार्यक्रम बदला हुआ रहेगा. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, इस बार संघ के विजयादशमी उत्सव में 100 से कम लोगों की ही उपस्थिति निश्चित की जायेगी. हालांकि संरसंघचालक का भाषण तय है. इसके अलावा मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनेटाइजर का उपयोग आदि सावधानियों को पूरा ध्यान रखा जायेगा. मिली जानकारी के अनुसार पूरे कार्यक्रम का ऑनलान प्रसारण की तैयारी है जिसमें सरसंघचालक का भाषण भी शामिल है. वैसे पिछले 4 वर्षों के इसकी वेबकास्टिंग की ही जा रही है.