Arrested
प्रतिकारात्मक तस्वीर 

    नागपुर. शहर के विभिन्न पुलिस थानों में दर्ज मामलों में 3,600 आरोपी फरार है. इन आरोपियों की तलाश के लिए अब पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार ने विशेष अभियान चलाने के आदेश विभाग को दिए है. मंगलवार से पुलिस ने आरोपियों की धरपकड़ शुरू कर दी. अलग-अलग बस्तियों में पुलिस की सक्रियता से अपराधियों के भी हाथ-पैर फूल गए है.

    पहले ही दिन पुलिस ने 25 वांटेड और फरार आरोपियों को गिरफ्तार किया. सीपी अमितेश कुमार ने बताया कि समय के साथ शहर में फरार आरोपियों की संख्या भी बढ़ती जा रही है. इस वजह से कोर्ट में केस प्रलंबित रहते हैं. जल्द से जल्द मामलों का निपटारा हो पाए इसीलिए हमने फरार आरोपियों की लीस्ट बनाई.

    इस लीस्ट के अनुसार 3,600 आरोपी फरार है. आला अधिकारियों के साथ बैठक कर ऑपरेशन की योजना बनाई गई. क्राइम ब्रांच के सभी यूनिट और शहर के सभी थानेदारों को रोजाना फरार आरोपियों की तलाश का टास्क दिया जा रहा है. कई अपराधी ऐसे है जिन्होंने वारदात को अंजाम देने के बाद अपना ठिकाना बदल लिया.

    पुलिस ने कई बार उनके घरों में दबिश दी, लेकिन हाथ नहीं लगे. ऐसे आरोपियों की तलाश के लिए विशेष रणनीति बनाई गई है. जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार किया जाएगा. अगले 15 दिनों तक पुलिस को यह विशेष टास्क दिया गया है जो सबसे ज्यादा आरोपियों की गिरफ्तारी करेगा उसे रिवार्ड भी दिया जाएगा. इसी अभियान के तहत सोमवार को 25 आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है. 

    30 वर्षों से था फरार 

    सीताबर्डी थाने में दर्ज डकैती के मामले में पिछले 30 वर्षों से फरार आरोपी सुनील उर्फ टकल्या महादेव राहुलकर (64) को क्राइम ब्रांच की टीम ने गिरफ्तार किया. सक्करदरा थाने में दर्ज मारपीट के मामलों में 25 वर्षों से फरार 2 आरोपियों को दबोचा गया. तहसील पुलिस ने हत्या के प्रयास के मामले में 2 वर्षों से फरार आरोपी सूरज विलास लांजेवार और सागर माहुले को गिरफ्तार किया है.

    धोखाधड़ी के मामले में 3 वर्ष से परार राजू ताराचंद शाहू को गणेशपेठ पुलिस ने पकड़ा. सबसे ज्यादा आरोपी गणेशपेठ पुलिस के हाथ लगे है. एक आरोपी की तलाश में गए पुलिस दल को पता चला कि उसकी मौत हो चुकी है. इसके अलावा कलमना, लकड़गंज, पांचपावली, यशोधरानगर, हिंगना, मानकापुर गिट्टीखदान, नंदनवन धंतोली सक्करदरा थाने में कुल 25 आरोपी पकड़े गए. 

    सहारे गिरफ्तार, बग्गा की तलाश

    इसी अभियान के तहत वाठोड़ा थाना क्षेत्र में जमीन पर अवैध रूप से कब्जा जमाने और प्लॉट मालिक से फिरौती मांगने के मामले में फंसे प्रापर्टी डीलर प्रशांत सहारे को पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया. लंबे समय से वह फरार था. इस प्रकरण को लेकर चर्चा में आए अपराधी गौरवसिंह बग्गा की तलाश भी जारी है.

    पुलिस ने बुधवार को बग्गा को पकड़ने के लिए उसके दोस्त और रिश्तेदारों सहित 8 स्थानों पर दबिश दी, लेकिन वह हाथ नहीं लगा. जमीन मामले के अलावा बग्गा ने एक व्यापारी को फंसाने के लिए उसकी दूकान में ड्रग्स भी रखवाया था. इस प्रकरण में अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है लेकिन बग्गा फरार है.