Nagpur ST Bus Stand

  • छग, मध्य प्रदेश के बाद अब तेलंगाना भी बंद

नागपुर. एसटी बस स्टैंड में मंगलवार से दूसरे राज्यों में जाने वाली सभी बसें बंद हो जाएगी. 20 अप्रैल से एमएसआरटीसी अपनी एक भी बस स्टेट से बाहर नहीं भेजेगा. इस संबंध में सोमवार को सर्कुलर जारी किया गया है. एसटी गणेशपठे से मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना के लिए बसें जाती थीं. सबसे पहले मध्य प्रदेश ने महाराष्ट्र से आने वाली बसों पर रोक लगा दी. इसके बाद छत्तीसगढ़ में लगे लॉकडाउन के बाद छत्तीसगढ़ की बसें बंद हो गई. वहीं, सोमवार से एसटी मैनेजमेंट ने तेलंगाना हैदराबाद जाने वाली बसों पर भी रोक लगाने का फैसला किया है. अब राज्य के बाहर जाने वाले यात्री एसटी की बस से यात्रा नहीं कर सकेंगे. एसटी बस स्टैंड के मैनेजमेंट ने स्टाफ को इस आदेश का पालन करने के लिए तत्काल कहा है.

सिटी के बाहर भी नहीं चलेंगी बसें

एसटी बस स्टैंड के इंचार्ज दीपक तामगाड़गे ने बताया कि राज्य में 15 अप्रैल से लगे लॉकडाउन में पब्लिक ट्रांसपोर्ट को ओपन रखा गया है, लेकिन आम यात्रियों को आने-जाने की मनाही है. ऐसे में दूसरे जिलों में जाने वाले बसों की संख्या को घटा दी गई है. आम यात्रियों को कहीं सफर करने नहीं मिलेगा. अमरावती रूट पर बसों को नहीं चलाने का फैसला लिया गया है. वहीं, ड्यूटी में लगे कर्मचारी ही आना-जाना कर सकेंगे. इसमें यात्रियों की संख्या अधिक होने पर बसों को चलाया जाएगा. ड्यूटी में लगे कर्मचारियों के लिए डिस्ट्रिक्ट लेवल बसें संचालित होंगी.

सिर्फ 2,000 किलोमीटर चलेंगी बसें

मंगलवार से एसटी की बसें सिर्फ 2,000 किलोमीटर ही चलेंगी. एसटी ने यह फैसला लिया है कि अब बसों को खाली नहीं चलाया जाएगा. कम संख्या वाली सभी बसों को बंद कर दिया गया है. अभी बसें 10,000 किलोमीटर तक चल रही थी. लेकिन मंगलवार से 8,000 किलोमीटर दूरी को कम कर दिया गया है. अब सिर्फ 2,000 किलोमीटर ही बसें चलेंगी. आज से दूसरे जिलों से भी आनेवाली बसों की संख्या कम हो जाएगी. 

पूरे स्टाफ कर रहे हैं ड्यूटी 

कोरोना काल में यात्रियों को किसी भी तरह की समस्या न हो इसके लिए बस स्टैंड के 100 प्रतिशत स्टाफ को ड्यूटी पर बुलाया जा रहा है. पूछताछ केंद्र पर हमेशा स्टाफ की ड्यूटी लगाई गई. वहीं, बस डिपो के स्टाफ को काम पड़ने पर ही डिपो बुलाया जा रहा है. वहां पर कर्मचारियों को रोटेशन नियमों के तरह भी काम लिया जा रहा है. जहां जरूरत हो वहां पर हर वक्त स्टाफ की तैनाती की गई है.