suicide

  • पुलिस ने दर्ज किया मामला

नागपुर. साहूकार की प्रताड़ना से तंग आकर प्रतापनगर थाना क्षेत्र में एक ठेकेदार ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज किया था. जांच के दौरान साहूकार द्वारा प्रताड़ित किए जाने का पता चला. पुलिस ने आरोपी म्हाडा कालोनी, अमरावती रोड निवासी गुलाब यज्ञनारायण दुबे (48) के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

स्नेहनगर निवासी हेमंत विजयराव खराबे (50) ने 28 सितंबर की दोपहर अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. उन्होंने एक सुसाइड नोट भी लिखा था, जिसमें गुलाब की प्रताड़ना से तंग आकर आत्महत्या करने का उल्लेख किया था. पुलिस ने हेमंत की पत्नी स्वाती से पूछताछ की. स्वाती ने पुलिस को बताया कि हेमंत बीएसएनएल में ठेकेदारी करते थे. व्यापारी में पैसों की जरूरत होने के कारण उन्होंने गुलाब से 45 लाख रुपये उधार लिए थे. इस पर गुलाब मोटा ब्याज वसूल कर रहा था.

45 लाख के बदले हेमंत 80 लाख रुपये लौटा चुके थे. बावजूद इसके ब्याज की रकम जोड़-जोड़ कर गुलाब उनपर रकम चढ़ाता जा रहा था. लॉकडाउन होने के कारण काम-धंधा बंद हो गया. इसीलिए हेमंत रकम लौटाने में असमर्थ थे, लेकिन गुलाब कुछ सुनने को तैयार नहीं था. वह हेमंत को फोन पर धमकाने लगा. पैसे नहीं लौटाने पर जान से मारने की धमकी दी.

हेमंत ने फोन उठाने बंद कर दिए तो गुलाब घर पर आकर धमकाने लगा. स्वाती के साथ भी अभद्र भाषा में बात करता था. इस वजह से हेमंत तनाव में थे. 28 सितंबर को पत्नी किसी काम से बाहर गई थी. वापस लौटी तो हेमंत फंदे पर लटके दिखाई दिए. पुलिस ने गुलाब के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने और साहूकारी अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है.