MLA Krishna Khopde

    नागपुर. पारडी थाना क्षेत्र में पिछले दिनों नाकाबंदी के दौरान गाड़ी से गिर जाने के कारण दिव्यांग युवक मनोज ठवकर की मौत हो गई. इस मामले में परिजनों ने पुलिस पर मारपीट की वजह से मृत्यु का आरोप लगाया है. घटना के बाद क्षेत्र के विधायक कृष्णा खोपडे ने पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा. वहीं पार्षदों के साथ थाने में जाकर भी भेंट दी. परिजनों से मिलने के बाद मृतक परिवार को हरसंभव आर्थिक का आश्वासन दिया. 

    खोपड़े ने बताया कि मास्क नहीं लगाने की वजह से पुलिस ने मनोज की गाड़ी रोकी. इस वजह से वह घबरा गया. घायल होने के बाद परिजनों को किसी भी तरह की सूचना नहीं देते हुए उसे अस्पताल में भर्ती करने ले जाया गया. मनोज के साथ पुलिस द्वारा मारपीट की जानकारी मिल रही है. परिवार में पत्नी और दो बच्चे हैं. यह घटना पुलिस विभाग के लिए निंदनीय है. उन्होंने मारपीट में दोषी पुलिसकर्मियों को तत्काल निलंबित करने, परिवार को 50 लाख की मदद करने, मृतक की पत्नी को पुलिस विभाग में नौकरी देने की मांग की है.

    प्रशासन द्वारा डिप्टी सिग्नल रेलवे क्रासिंग, प्रजापति चौक, पारडी चौक, जूना मोटर स्टैंड व मारवाड़ी चौक में सीसीटीवी कैमरे लगाए गये हैं. चौक के आसपास पुलिस तैनात नहीं रहती है जबकि जहां ड्यूटी नहीं लगाई जाती पुलिस उस जगह पर खड़ी रहती है. इस अवसर पर प्रमोद पेंडके, संजय अवचट, नगरसेवक दीपक वाडीभस्मे, वैशाली वैद्य, जयश्री रारोकर, मनीषा अतकरे, देवेंद्र मेहर, हरिभाऊ वैद्य, चिन करारे, संजय मानकर, श्रीकांत भोगे, बंडू फेद्देवार, पिंटू टीचकुले, रितेश राठे, अनिल कोडापे, राजू दिवटे, सुनील सूर्यवंशी, एजाज शेख, शैलेश मेहर, चक्रधर अतकरे, कपिल लेंडे, विवेक ठवकर, अनिकेत ठाकरे व अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे.