Mayor Sandeep Joshi

  • महापौर जोशी ने प्रशासन को दिए निर्देश

नागपुर. महानगर पालिका में महापौर बनने के बाद सर्वप्रथम शहर में सुलभ शौचालयों के लिए सर्वाधिक महापौर निधि देने की घोषणा के कुछ ही माह में कोरोना महामारी का संकट खड़ा होने से इसे कारगर रूप नहीं दिया सका. किंतु अब शहर की जनता के लिए अति आवश्यक भीड़ वाले इलाके, बाजार, चौराहे और अन्य स्थानों पर सुलभ शौचालयों के निर्माण के लिए प्रभावी ढंग से तुरंत कार्यवाही करने के निर्देश महापौर संदीप जोशी ने प्रशासन को दिए.

उन्होंने कहा कि शहर में सुलभ शौचालयों की संख्या काफी कम है. एक ओर जहां शहर को स्वच्छ और सुंदर रखने की अपील की जाती है, वहीं दूसरी ओर लोगों को सुविधा भी उपलब्ध कराना इतना ही महत्वपूर्ण है. प्रसाधनगृहों की संख्या बढ़ने से लोगों को सुविधाएं उपलब्ध होगी. सोमवार को सुलभ शौचालयों के संदर्भ में प्राप्त प्रस्तावों पर उन्होंने बैठक ली.

जमीन की उपलब्धता सुनिश्चित करें

महापौर ने कहा कि जोनल स्तर पर जमीन उपलब्ध कराने तथा इसमें आनेवाली समस्याओं को तुरंत हल कर प्रसाधनगृहों का निर्माण सुनिश्चित किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि सुलभ शौचालय कम होने से विशेष रूप से महिलाओं को परेशानी से गुजरना पड़ता है. जिससे शहर में सुलभ शौचालयों की संख्या  बढ़ाने का मनपा का मानस है. उपमहापौर मनीषा कोठे, स्थायी समिति सभापति पींटू झलके, मुख्य अभियंता लीना उपाध्ये, वित्त अधिकारी हेमंत ठाकरे, प्रदीप दासरवार, सोनाली चव्हाण, अविनाश बाराहाते, धनंजय मेंढूलकर आदि उपस्थित थे. 

5 करोड़ का निधि सुरक्षित रखे

महापौर ने कहा कि सभी 10 जोन में भीड वाले मार्गों तथा आवश्यकता अनुसार सुलभ स्थानों पर सुलभ शौचालयों का निर्माण किया जाएगा. इस कार्य के लिए निधि की कमी नहीं होगी. जिससे प्राथमिक स्तर पर 5 करोड़ रुपए सुरक्षित रखने की हिदायत भी प्रशासन को दी. लोगों को सुविधा उपलब्ध कराने के लिए शौचालयों का निर्माण शीघ्र शुरू करने के लिए जोनल स्तर पर आवश्यक कार्यवाही पूरी करने के निर्देश भी दिए.