murder

  • सब्जी विक्रेताओं ने मौत के घाट उतारा

नागपुर. मंगलवारी बाजार परिसर में मंगलवार को दूकान लगाने की जगह को लेकर चाय दूकानदार और सब्जी विक्रेता का विवाद हो गया. सब्जी विक्रेता भाइयों ने मिलकर चाय दूकानदार पर चाकू से हमला कर बुरी तरह जख्मी कर दिया. उसे उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उपचार मिलने से पहले ही मौत हो गई. सदर पुलिस प्रकरण की जांच कर रही है. हत्या में 4 से ज्यादा आरोपी होने की जानकारी सामने आ रही है. मृतक मस्कासाथ निवासी अक्षय उर्फ गोलू किशोर निर्मले (23) बताया गया.

हमलावर आरोपियों में राजू मोहनलाल वर्मा, गुड्डू वर्मा, रितेश वर्मा, निखिल वर्मा और उनके अन्य साथियों का समावेश है. अक्षय साप्ताहिक बाजार में चाय की दूकान लगाता है, जबकि वर्मा बंधु भी यहां सब्जी की दूकान चलाते हैं. वर्मा की दूकान के सामने स्थित चबूतरे पर एक अन्य सब्जी विक्रेता दूकान लगाता था.

उसकी मौत होने के बाद अक्षय ने वह जगह खरीद ली, जबकि उस जगह पर वर्मा बंधुओं की नजर थी. अक्षय ने वहां अपनी चाय की दूकान शुरू कर ली. वर्मा बंधु इसका विरोध कर रहे थे. मंगलवार को साप्ताहिक बाजार था. दूकान लगाने को लेकर सुबह से ही अक्षय और वर्मा बंधुओं में तनातनी चल रही थी. शाम 7 बजे के दौरान आरोपियों ने जबरदस्ती अक्षय से विवाद शुरू कर दिया. गालीगलौज को हाथापायी में बदलते देर नहीं लगी.

आरोपियों ने अक्षय पर चाकू से हमला बोल दिया. उसके शरीर पर कई वार किए गए. अक्षय खून से लथपथ वहीं ढेर हो गया, जबकि आरोपी फरार हो गए. घटना की जानकारी मिलते ही सदर के थानेदार संतोष बकाल दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. अक्षय को मेयो अस्पताल भेजा गया, लेकिन डॉक्टरों ने जांच करते ही मृत घोषित कर दिया. डीसीपी विनीता शाहू और गजानन राजमाने ने भी घटनास्थल का जायजा लिया. सदर थाने की 2 टीमें और क्राइम ब्रांच का यूनिट-2 आरोपियों की तलाश में जुट गया है. देर रात तक कोई आरोपी पुलिस के हाथ नहीं लगा था. पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.