RTE Admission

    नागपुर. सभी को शिक्षा के अधिकार (आरटीई) के अंतर्गत प्रवेश के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया तकनीकी खामियों की वजह से पिछले ७ दिनों से रुकी हुई है. अब वहीं दूसरी ओर लॉकडाउन की वजह से भी लोगों का घरों से निकलना बंद हो गया है. यही वजह है कि पालकों ने प्रवेश प्रक्रिया की तिथि बढ़ाने की मांग की है.

    दरअसल, शिक्षा विभाग ने ही पालकों से आवेदन नहीं करने की अपील की थी. अब तक तकनीकी खामियों को दूर नहीं किया गया है. आवेदनकर्ताओं की गूगल मैपिंग नहीं हो रही हैं. अब लॉकडाउन होने से कोई भी सर्विस सेंटर शुरू नहीं है. आवेदन में एसएमएस और ओटीपी प्राप्त नहीं हो रहा और इसके कारण अनेक आवेदन होल्ड पर गए हैं. पालकों को समझ नहीं आ रहा है कि उनके आवेदन स्वीकार हुये हैं या नहीं. अब तक 16,769 आवेदन ही स्वीकृत हुये हैं.

    आरटीई एक्शन कमेटी के अध्यक्ष मो. शाहिद शरीफ ने बताया कि प्रशासन द्वारा तकनीकी दिक्कत को दूर करने की दिशा में सक्रियता नहीं दिखाई जा रही है. एक बार फिर लॉकडाउन होने से स्थिति असमंजस की बनी हुई है. प्रशासन द्वारा पालकों का योग्य मार्गदर्शन किया जाना चाहिए. एसएमएस के माध्यम से समय-समय पर जानकारी दी जानी चाहिए. इस बार प्रशासन द्वारा जिला स्तर पर मार्गदर्शन केंद्र भी शुरू नहीं किये गये हैं. लॉकडाउन हटने के बाद इस ओर भी गंभीरता से ध्यान दिए जाने की मांग की.