महिला की लाश ने पुलिस का बढ़ाया टेंशन, मेट्रो पुल के नीचे मिला शव

    नागपुर. छत्रपति चौक के समीप तलमले सभागृह के सामने मेट्रो पुलिया के नीचे मिली महिला की लाश ने पुलिस का टेंशन बढ़ा दिया. शव को देखकर पहले रेप और हत्या का अनुमान लगाया गया, लेकिन पोस्टमार्टम करने के बाद डॉक्टर ने कोई संदेह नहीं जताया जिसके बाद पुलिस ने राहत की सांस ली. मृतक सुमन विनायकनंद पटेल (45) बताई गई.

    सुमन अपने परिवार से अलग रहती है. साई मंदिर से छत्रपति चौक के बीच भीख मांगकर अपना पेट भरती थी. 2 बेटे अमरावती में रहते और 1 चंद्रपुर में. कई वर्षों से सुमन छत्रपति पुलिया के नीचे ही गुजर-बसर कर रही थी. उसके साथ दीपक नामक व्यक्ति भी रहता था. वह भी भीख मांगता है. मंगलवार की सुबह रास्ते से गुजर रहे लोगों ने ट्रैफिक पुलिस को मेट्रो पुलिया के पिल्लर क्र. 128 के नीचे महिला का शव पड़ा होने की जानकारी दी.

    ट्रैफिक पुलिस ने राणाप्रतापनगर थाने को सूचित किया. इंस्पेक्टर दिनकर ठोसरे अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे. महिला की लाश अर्धनग्न अवस्था में थी. इससे उसके साथ रेप होने का अनुमान लगाया जा रहा था. डीसीपी नुरुल हसन भी मौके पर पहुंचे. आसपास के लोगों ने कोई जानकारी नहीं दी, लेकिन एक रिक्शा चालक ने बताया कि सुमन लंबे समय से इसी इलाके में भीख मांगती थी. उसके रिश्तेदार रामेश्वरी के काशीनगर इलाके में रहते हैं.

    पुलिस काशीनगर परिसर में जाकर जांच कि तो सुमन के रिश्तेदारों का पता चला. परिजनों को सूचित किया गया और शव को पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल अस्पताल भेजा गया. शाम को पीएम के बाद डॉक्टरों ने किसी प्रकार संदेह नहीं जताया. मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है, लेकिन डॉक्टर का कहना है कि महिला के साथ कोई जोर-जबरदस्ती होने के निशान नहीं है. फिलहाल पुलिस ने आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज कर जांच आरंभ की है. अधिकृत पीएम रिपोर्ट मिलने के बाद ही कुछ स्पष्ट हो पाएगा.