Fraud
Representational Pic

    नागपुर. गिट्टीखदान थानातंर्गत फर्जी तरीके से वन विभाग की जमीन पर प्लॉट बनाकर बेचने का मामला दर्ज किया गया है. आरोपियों ने 3 वर्ष में 5 करोड़ की धोखाधड़ी की. पुलिस ने गवर्मेंट क्वार्टर कॉलोनी, रामनगर निवासी वर्षा विजय भुरे की शिकायत पर राजश्री अमरदीप कांबले (52), मनीषा अमरदीप कांबले (30), शहनवाज खान (45), वासूदेव इंगोले (45), किरण समर्थ (30) के अलावा एसआरबी के प्रोपाइटरों में शामिल संदीप सहदेव मेश्राम (38), आकाश भारद्वाज (40) और राम किशोर रहांगडाले (38) समेत अन्य पर मामला दर्ज किया है.

    भुरे ने अपनी शिकायत में बताया कि आरोपियों ने पहले मौजा गोरेवाड़ा में वन विभाग की जमीन के फर्जी कागजात बनाये और इसके अपने नाम कर लिया. इन्हीं फर्जी कागजातों की मदद से आरोपियों ने अगस्त 2018 से जून 2021 तक कई लोगों को इस जमीन पर प्लॉट भी बेच दिये. इस दौरान करीब 5 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की गई. पुलिस जांच जारी है.