समस्या का जल्द निकलेगा हल ,स्थापत्य व प्रकल्प समिति सभापति ने जताई आशा

नागपुर. मारिस कालेज टी पाईंट से युनिवर्सिटी तक के डीपी रोड पर से यातायात शुरू करने में भले ही मेट्रो स्टेशन की बाधा आ रही हो, लेकिन मेट्रो रेल कार्पोरेशन के साथ समन्वय कर इस समस्या का शीघ्र हल निकालने की जानकारी स्थापत्य व प्रकल्प समिति सभापति अभय गोटेकर ने दी. उन्होंने कहा कि संभवत: मेट्रो स्टेशन को लेकर उस विभाग की कुछ तकनीकी अड़चन हो सकती है. अब मनपा और मेट्रो रेल कार्पोरेशन के अधिकारियों की शीघ्र बैठक लेकर वास्तविकता की जानकारी ली जाएगी. जिसके बाद इसका हल निकाला जाएगा. 

मेट्रो की दादागिरी, जनता परेशान

उल्लेखनीय है कि मारिस कालेज टी-पाईंट डीपी रोड के बीच मेट्रो स्टेशन का काम आने तथा स्टेशन का काम पूरा होने तक इस रोड में अडंगा डालकर रखने की ‘दादागीरी’ भले ही मनपा के लिए सामान्य बात हो, लेकिन प्रतिदिन बर्डी के ट्राफिक जाम से रूबरू होनेवाली जनता के लिए यह परेशानी का सबब है.

सड़क निर्माण से लेकर कार्य में आई रूकावटें के पूरे घटनाचक्र को देखा जाए, तो डीपी रोड को पूरा करने के लिए सत्तापक्ष और प्रशासन में  इच्छा शक्ति का अभाव देखा गया है. सूत्रों के अनुसार शहर में ऐसे कई प्रकल्प है. जिसे सत्तापक्ष के दबाव के चलते समयावधि में पूरे किए गए. इसके बावजूद मारिस कालेट टी पाईंट डीपी रोड का कार्य अटका होना सभी के लिए आश्चर्य से कम नही है. 

नाम के केवल पार्षद

सूत्रों के अनुसार बर्डी जैसे व्यवसायीक क्षेत्र में ट्राफिक जाम की स्थिति से निपटने के लिए मारिस कालेज टी पाईंट से युनिवर्सिटी तक के मार्ग का निर्माण किया जा रहा हो, लेकिन इस प्रभाग के किसी भी पार्षदों में गंभीरता नहीं दिखाई दे रही है. पार्षदों की सक्रियता के अभाव में भी पूरा मामला अटका हुआ है. हालांकि प्रभाग के सभी पार्षद सत्तापक्ष के है. इसके बाद भी पार्षदों की ओर से किसी तरह के प्रयास नहीं किए जा रहे है. अत: केवल नाम के पार्षद होने की कड़ी टिप्पणी पूर्व पार्षदों द्वारा जताई जा रही है.