NMC

  • मनपा में राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस

नागपुर. कोरोना के इस संकटकाल के दौरान पर्यावरण को लेकर बढ़ी सजगता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस के अवसर पर बुधवार को मनपा में साइकिल से पहुंचने का निर्णय अधिकारी और कर्मचारियों ने लिया है. अति. आयुक्त राम जोशी ने बताया कि मुहिम में अधिक से अधिक अधिकारियों और कर्मचारियों के शामिल होने की आशा जताई जा रही है. हालांकि किसी पर बंधन नहीं लादा गया है, किंतु प्रदूषण को कम करने के लिए इस तरह का प्रयास किया जा रहा है. एक दिन भी साइकिल से कार्यालय आने पर निश्चित ही ईंधन से होनेवाले वायु प्रदूषण में कमी आने से इंकार नहीं किया सकता है.

स्वास्थ्य भी रहेगा उत्तम

उन्होंने कहा कि इस तरह से एक दिन साइकिल पर आने से न केवल प्रदूषण से बचाव होगा, बल्कि स्वास्थ्य भी उत्तम रहेगा. सभी अधिकारी और कर्मचारी कार्यालयीन समय पर सुबह 9.30 से 9.45 बजे के बीच कार्यालय पहुंचेंगे. उल्लेखनीय है कि भोपाल गैस हादसे में जान गंवानेवाले लोगों की स्मृति में राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस का आयोजन किया जाता है.

2 दिसंबर 1984 की रात औद्योगिक इकाई में जहरीली गैस के रिसाव के चलते सैकड़ों लोगों की जान गई थी. इस अवसर पर शहर की जनता से वाहनों से होनेवाले प्रदूषण पर नियंत्रण रखने एक दिन साइकिल से चलने की अपील की गई है. बताया जाता है कि पर्यावरण क्षेत्र में कार्यरत कुछ स्वयंसेवी संस्थाओं की ओर से भी इसके लिए विशेष प्रयास भी किए जा रहे हैं.