Toilet

  • जगह मिली पर मनपा अब भी नींद में

नागपुर. छोटी खदान और भोईपुरा परिसर से करीब 21 वर्षों से गायब शौचालय तो नहीं मिला लेकिन इसकी सटीक जगह का पता जरूर चल गया. बावजूद इसके महानगर पालिका को अभी तक इस बारे में कोई खबर नहीं. महापौर दयाशंकर तिवारी स्वयं ही मनपा के संबंधित विभाग को उक्त शौचालय के बारे में उचित कागजात दिखाने के आदेश दे चुके हैं. लेकिन विभाग के कान पर अभी तक जूं नहीं रेंग रही.

हैरानी की बात है कि गीतांजलि टॉकिज जैसे व्यस्त परिसर से पूरा का पूरा शौचालय गायब हो गया लेकिन कभी मनपा प्रशासन को भनक नहीं लगी. वैसे शहर के शौचालयों की खस्ता हाल कोई नई बात नहीं. यदि तलाश की जाये तो इसके समान और भी कई सार्वजनिक शौचालय गायब हो गये होंगे. लेकिन उक्त परिसर में शौचालय की जगह मिलने के बाद भी मनपा की चुप्पी समझ से परे हैं.

मस्जिद की सीमा में नहीं थी : कमेटी

उधर खान मस्जिद कमेटी की ओर से कहा कि जिस शौचालय के गायब होने के चर्चे हैं, वह कभी यहां था ही नहीं. ऐसे में प्रशासन द्वारा पुराने कागजातों और नक्शों के आधार पर कार्यवाही करनी चाहिए. ज्ञात हो कि पहले बताया जा रहा था कि पहले उक्त शौचालय मस्जिद परिसर से लगकर था. लेकिन खान मस्जिद कमेटी की ओर से कहा गया कि यहां ऐसा कोई शौचालय नहीं था.