Attempted attack on 2 arrests, food security officer

  • दुश्मनी में बदली दोस्ती, हो सकता है गैंगवार

नागपुर. क्राइम ब्रांच के यूनिट 3 ने शनिवार रात शांतिनगर के चर्चित अपराधी शेख वसीम उर्फ चिरा शेख अफजल (37) और उसके दुश्मन प्रदीप ध्रूवसिंह थापा (42) को गिरफ्तार किया. वसीम चिरा और थापा दोनों ही शांतिनगर में चर्चित अपराधी है. थापा कुछ वर्ष पहले तक वसीम चिरा की ही गैंग में शामिल था. दोनों की तिरुपति भोगे की गैंग से दुश्मनी थी.

तिरुपति और वसीम की गैंग ने एक-दूसरे पर पिस्तौल से जानलेवा हमले भी किए. दोनों गैंग की दुश्मनी से शहर पुलिस परेशान भी थी. पारिवारिक रिश्तों में दगा करने के कारण वसीम और थापा के बीच दुश्मनी हो गई. थापा ने तिरुपति गैंग का साथ थाम लिया. थापा भी वसीम को टपकाने की फिराक में था. इसकी जानकारी पुलिस विभाग को मिली.

शहर में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए सीपी उपाध्याय ने आपरेशन क्रैकडाउन शुरु किया है. शनिवार की रात क्राइम के यूनिट 3 को जानकारी मिली कि वसीम और थापा हथियार लेकर परिसर में घूम रहे है. खबर के आधार पर पुलिस ने पहले वसीम को फिर थापा को गिरफ्तार किया. दोनों के पास से धारदार हथियार जब्त किए गए.

पुलिस ने उनके खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है. डीआईजी निलेश भरणे, डीसीपी गजानन राजमाने और एसीपी सुधीर नंदनवार के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर विनोद चौधरी, चंद्रशेखर मस्के, एपीआई पंकज धाड़गे, योगेश चौधरी, एएसआई रफीक खान, हेड कांस्टेबल प्रशांत लाड़े, अनिल दुबे, शैलेष पाटिल, अरुण धर्मे, अनूप शाहू, श्याम कड़ू, अमित पात्रे, प्रवीण गोरटे, टप्पूलाल चुटे और संदीप मावलकर ने कार्रवाई को अंजाम दिया.