ABVP pressure, university withdraws, refuses to give vice-chancellor speech in anti-naxal program

  • कइयों को जानकारी ही नहीं, रहेंगे वंचित

नागपुर. आरटीएम नागपुर विवि द्वारा अनुत्तीर्ण और निजी छात्रों की परीक्षा ली जा रही है. दिसंबर के अंतिम सप्ताह से शुरू हुई परीक्षा 20 जनवरी तक चलेगी, लेकिन इसकी जिम्मेदारी कॉलेजों पर सौंपने की वजह से ही छात्रों में संभ्रम की स्थिति बनी हुई है. दरअसल विवि ने परीक्षा के लिए कॉमन टाइम टेबल घोषित नहीं किया है. इस हालत में हर कॉलेज को अपने-अपने तरीके से परीक्षा लेने को कहा गया है. अब जिन छात्रों से कॉलेजों का संपर्क हो रहा है, उन्हें परीक्षा की जानकारी है. जबकि ‘कवरेज क्षेत्र’ से बाहर रहने वाले छात्रों पर परीक्षा से वंचित रहने की नौबत आ गई है.

विवि द्वारा बैक सबजेक्ट, अनुत्तीर्ण और प्राइवेट छात्रों की परीक्षा ली जा रही है. कोविड काल की वजह से विवि ने कॉलेजों पर ही परीक्षा लेने की जिम्मेदारी सौंपी है. परीक्षा ऑन और ऑफलाइन दोनों पद्धति से ली जा रही है. परीक्षा कॉलेज स्तर पर होने से अनेक छात्रों को संदेश तो पहुंच रहा है, लेकिन अब भी कई छात्र ‘कवरेज क्षेत्र’ से बाहर हैं. परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र विवि द्वारा ही दिया जा रहा है. लेकिन यह प्रवेश पत्र भी परीक्षा से एक या दो दिन पहले दिया जा रहा है. विवि के पास जिन छात्रों के मोबाइल नंबर हैं, उन्हें मैसेज भेजा जा रहा है. ताकि वे प्रवेश पत्र लेने पहुंच सकें. लेकिन अब भी कई छात्र अपने-अपने घरों में ही हैं. यही वजह है कि सभी छात्रों से संपर्क नहीं हो रहा है.

अलग-अलग तिथि से दिक्कतें

कॉलेजों का कहना है कि विवि द्वारा परीक्षा का टाइम टेबल निर्धारित किया जाना चाहिए था. ताकि छात्रों को मालूम हो पाता कि किस तिथि से परीक्षा ली जा रही है. अब कॉलेज स्तर पर परीक्षा होने से सभी ने अलग-अलग तिथि निर्धारित की है. अलग-अलग तिथि होने से कई छात्रों को जानकारी ही नहीं मिल रही है. अब कॉलेजों द्वारा छात्रों से संपर्क कर जानकारी दी जा रही है. लेकिन सभी छात्रों तक पहुंचना मुश्किल हो गया है. यही वजह है कि कई छात्रों के परीक्षा से वंचित रहने की नौबत आ गई है.

इस संबंध में एक प्राध्यापक ने बताया कि उनके कॉलेज में बुधवार के परीक्षा ली जाने वाली है. उनके कॉलेज के साथ ही कुछ अन्य कॉलेज के भी छात्रों को शामिल किया गया है. जब विवि प्रशासन से छात्रों के नंबर मांगे गये तो उनका कहना था कि हमने छात्रों को फोन पर जानकारी दी है. वहीं कॉलेज का कहना है कि अब भी कई छात्रों को जानकारी ही नहीं है कि बुधवार को उनकी परीक्षा होने वाली है.