murder

नागपुर. शराब की उधारी को लेकर हुए विवाद में 3 युवकों ने मिलकर 1 युवक की हत्या कर दी. बातचीत करने के बहाने उसे बुलाया और हथियारों से गोद दिया. बिना समय गवाएं यशोधरानगर पुलिस काम पर लग गई और तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. मृतक पाटिल लेआउट, माजरी निवासी सुबोध उर्फ बापू विशाल मेश्राम (22) बताया गया. पकड़े गए आरोपियों में माजरी निवासी प्रणय उर्फ गोलू राउत (26), सागर परिमल (20) और अंकुश चौधरी (20) का समावेश है.

आरोपी और मृतक पहले साथ में कैटरिंग सर्विस में काम करते थे. इस वजह से सुबोध की सभी से दोस्ती थी. लॉकडाउन के चलते कैटरिंग के आर्डर मिलना बंद हो गए. प्रणय ने अपने घर से अवैध तरीके से शराब बेचनी शुरु कर दी. सुबोध अक्सर उसके पास शराब पीने जाता था. दोस्ती का हवाला देकर उधार में शराब पीने लगा. उसपर काफी पैसे बकाया था. प्रणय ने उससे शराब के पैसे मांगे, लेकिन सुबोध ने आर्थिक तंगी का हवाला दिया. दोनों के बीच विवाद हो गया.

शुक्रवार की रात भी सुबोध उसके पास शराब पीने गया. प्रणय ने पहले उधारी चुकाने को कहा. इस बात पर दोनों के बीच विवाद हो गया. सुबोध ने उसे जो बन पड़े कर लेने को कहा. इस बात से बौखलाए प्रणय ने रात 12.30 बजे के दौरान सुबोध को रहमतनगर के कारखाने के पास बुलाया. प्रणय के साथ सागर और अंकुश भी थे. सुबोध के आते ही प्रणय ने उसे पीटना शुरु कर दिया. दोनों के बीच हाथापाई हुई. तीनों ने मिलकर सुबोध को घेर लिया.

चाकू से गर्दन, कलार् और पेट पर वार कर मौत के घाट उतार दिया और फरार हो गए. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. हत्या का मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरु की गई. शनिवार दोपहर को पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. प्रणय ने अपने बयान में शराब के पैसे का विवाद होने की जानकारी दी.